Share this


  • अमेरिका के फेडरल एविएशनिसा (एफडीए) ने पाकिस्तान के पायलटों के सर्टिफिकेट को लेकर चिंता जाहिर की थी
  • अमेरिका के ट्रांसपोर्टेशन विभाग ने गुरुवार को कहा कि पीआईए से अमेरिका में चार्टर प्लेन्स परिचालन करने की परमिशन वापस ले ली गई।

दैनिक भास्कर

Jul 10, 2020, 11:23 AM IST

वॉशिंगटन। फर्जी पायलटों के मुद्दे पर अब अमेरिका ने भी पाकिस्तान इंटरनेशनल एबरन्स (पीआईए) पर कार्रवाई की है। अमेरिका के ट्रांसपोर्टेशन विभाग ने कहा- पाकिस्तान के पायलटों के लाइसेंस और सर्टिफिकेट को लेकर फेडरल एविएशनिसा (एफडीए) ने चिंता जाहिर की थी। हमने पीआईए से अमेरिका में चार्टर प्लेन्स संचालन करने की परमिशन बैक ले ली है। अमेरिका में पीआईए की चार्टर सेवाओं का परमिट अब रद्द कर दिया गया है।

कुवैत, ईरान, जॉर्डन और यूएई जैसे मुस्लिम देश पहले ही पीआईए और पाकिस्तानी पायलटों बैन कर चुके हैं। इसके बाद वियतनाम, ब्रिटेन और मलेशिया ने भी यही निर्णय लिया। इसके साथ ही यूरोपीय संघ सेफ्टी एजेंसी (ईएएसए) ने अपने 32 मेंबर देशों से कहा है कि वह फौरन पाकिस्तान के पायलटों पर बैन लगाएं।

34 पायलट्स की नौकरी गई
पाकिस्तान ने 34 पायलटों के लाइसेंस की जांच पूरी करने के बाद उन्हें बर्खास्त कर दिया है। ये सभी के लाइसेंस योग्य पाए गए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नौकरी से हटाए गए पायलटों में दो महिला पायलट भी शामिल हैं। एविएशन मिनिस्ट्री ने कहा- यह मामला सामने आने के बाद हमारी साख खतरे में है। पाकिस्तान की इस सरकारी एर्न्स में कुल 850 पायलट हैं। इनमें से 262 के उड़ान भरने पर रोक लगाई जा रही है। ये सभी के लाइसेंस, फ्लाय ओके सर्टिफिकेट और डिग्रियों की जांच की जा रही है।

कैसे सामने आया फर्जीवाड़ा
22 मई को कराची में पीएए का प्लेन हुआ। 25 जून को इसकी जांच रिपोर्ट संसद में पेश की गई। एविएशन मिनिस्टर ने कहा- हादसा पायलट्स की गलती से हुआ। वो कोरोना पर चर्चा में मशगुल थे। दिवालिया होने की कगार पर खड़ी पीआईए की मुश्कलें अब बढ़ती जा रही हैं। गुरुवार को संसद में विपक्ष ने एविएशन मिनिस्टर गुलाम सरवर खान के उस कबूलनामे पर सवाल उठाया जिसमें उन्होंने देश में 40% लोक फर्जी होने की बात कही थी। विपक्ष का कहना है कि खान ने देश की साख को मिट्टी में मिला दिया।

पाकिस्तान के फर्जी पायलटों से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं …
1. अब मलेशिया ने पाकिस्तान के पायलटों पर बैन लगा दिया, कहा- पाकिस्तान के एविशन मिनिस्टर ने खुद माना था कि उनके 40% देश की सीमाएं हैं
2. पाकिस्तान की सरकारी एयरलाइंस के 860 में से 150 पायलट नहीं उड़ा पाएंगे प्लेन, 262 पायलट्स का एग्जाम किसी और ने किया था
3. पाकिस्तान में फर्जी लाइसेंस वाले 262 पायलट्स के एयरक्राफ्ट उड़ाने पर रोक, उनके खिलाफ जांच होगी, दोषी पाए गए तो जेल जाएंगे





Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *