Share this


PATNA : दरभंगा करेह नदी के जलस्तर में कमी आ रही है, लेकिन अभी भी पुल का गाटर पानी में डूबा ही हुआ है. लिहाजा दरभंगा-समस्तीपुर रेल खंड पर परिचालन ठप है. वैसे अगर इसी रफ्तार से पानी कम होता रहा तो दो से तीन दिनों में परिचालन बहाल हो जाने के आसार हैं. जानकारी के अनुसार पुल का गाटर अभी भी नौ इंच पानी में डूबा ही हुआ है. नित्य छह इंच पानी कम हो रहा है. इसी गति से यदि जलस्तर में कमी आती रही तो दो दिनों में गाटर से पूरी तरह पानी उतर जायेगा. इसके बाद अभियंत्रण विभाग की जांच होगी और हरी झंडी मिलने के बाद ट्रेन परिचालन शुरू होगा. मालूम हो कि थलवारा-हायाघाट के बीच मुंडा पुल संख्या 16 पर गत 24 जुलाई की सुबह करीब सात बजे गाटर में पानी छू जाने के कारण पुल का पीलर दिखना बंद हो गया. इस वजह से एहतियातन ट्रेन परिचालन इस मार्ग से रोक दिया गया.

इधर नदी में पानी इतना बढ़ गया कि पुल के उपर पटरी भी डूब गयी. पिछले सप्ताह से जलस्तर में कमी आनी शुरू हुई. बता दें कि पुल का 4.5 फीट मोटा गाटर पूरी तरह पानी में डूब गया था. इससे तीन फीट नीचे पानी आ गया है. डेढ़ फीट और पानी कम होने के बाद पूरा गाटर दिखाई देगा. सनद रहे कि इस कारण से जहां तीन महत्वपूर्ण ट्रेनों को समस्तीपुर से ही वापस कर दिया जा रहा है,वहीं मात्र दो गाड़ियों का परिचालन दरभंगा से वाया सीतामढ़ी-मुजफ्फरपुर किया जा रहा है. पवन, सरयु-यमूना तथा शहीद एक्सप्रेस इस वजह से समस्तीपुर में ही शॉर्ट टर्मिनेट की जा रही है, जबकि संपर्क क्रांति एवं साबरमती का परिचालन दरभंगा से परिवर्तित मार्ग से हो रहा है. यहां याद दिला दें कि कोरोना की वजह से बंद ट्रेन परिचालन जब आरंभ हुआ तो इस क्षेत्र के पांच गाड़ियों की आवाजाही ही शुरू हुई.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *