Share this


  • हिंदी समाचार
  • अंतरराष्ट्रीय
  • अमेरिकी चुनावों में अब उत्तर कोरिया की एंट्री! किम जोंग उन सबमरीन के साथ ट्रम्प की बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण कर सकते हैं

पेरिस40 मिनट पहलेलेखक: जूलियन रयाल

  • कॉपी लिस्ट

रोबोट से बचाने के लिए इन सैलून को टेंट में रखा गया है। इसी तरह यहाँ कई अंतरराज बनाए गए हैं।

  • विशेषज्ञों का मानना ​​है कि अमेरिका में हो रहे राष्ट्रपति चुनाव को देखते हुए किम जोंग उन अपनी सैन्य शक्ति को इस मौके को भुनाने के लिए प्रेरित करेंगे।

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने 10 अक्टूबर को अपनी वर्कर्स पार्टी के 75 वें स्थापना दिवस को ऐतिहासिक बनाने की पूरी तैयारी ली है। बीते दो महीने की इलेक्ट्रॉनिक्स तस्वीरों में प्योंगयांग में हजारों सैनिकों और बख्तरबंद सैन्य वाहनों का मूवमेंट और नए निर्माण कार्य देखा गया है।

विशेषज्ञों का मानना ​​है कि अमेरिका में हो रहे राष्ट्रपति चुनाव को देखते हुए किम जोंग उन अपनी सैन्य शक्ति को इस मौके को भुनाने के लिए कहेंगे। इस मौके पर उत्तर कोरिया पनडुब्बी से बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण कर सकता है। नॉर्थ कोरिया सरकार प्रशांत महासागर क्षेत्र में बैलिस्टिक मिसाइल क्षमता वाला पोत तैनात कर हवाई या अन्य अमेरिकी सैन्य ठिकानों को स्कैनर पर लेने चाहती है।

यह अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के लिए एक तरह का सरग होगा। क्योंकि अमेरिकी राष्ट्रपति अब तक उस जोंग उन को परमाणु निरस्तीकरण के लिए राजी करने के लिए तीन बार मिल चुके हैं। उधर, अमेरिका ने भी चेतावनी देते हुए कहा है कि इस तरह हथियारों की तैनाती तनाव बढ़ाएगी।

लीडरशिप को कानूनी ताकत से जनता करते हैं

सियोल की ट्राय यूनिवर्सिटी में अंतर्राष्ट्रीय संबंध के प्रोफेसर डैन पिंक्सटन कहते हैं कि उत्तर कोरिया के इतिहास में वर्षगांठ बेहद महत्वपूर्ण तारीखें होती हैं। इन दिनों में प्योंगयांग के शासक अपनी लीडरशिप को कानूनी ताकत से अलग करते हैं। रोबोट से बचाने के लिए इन सैलून को टेंट में रखा गया है। इसी तरह यहाँ कई अंतरराज बनाए गए हैं।

उनका कहना है- कुछ ढांचे ऐसे दिख रहे हैं, जिनमें लंबी दूरी की मिसाइलें लॉन्च करने वाले रिपोर्टरों सेरेक्टर लॉचर (टीईएल) रखे गए हैं। दक्षिण कोरिया के दक्षिणीलैंड के सैन्य अधिकारी वोन इन चुल ने बताया कि सिन्पो शिपयार्ड में रिपेयरिंग का काम तेजी से चल रहा है। यह उत्तर कोरिया की पनडुब्बियों का घर है। जब यह काम पूरा हो जाएगा, तब पड़ोसी बैलिस्टिक मिसाइल एसएलबीएम का परीक्षण कर सकता है।

परेड में नए हथियार शामिल होंगे

दक्षिण कोरिया के पूर्व राजनयिक और सीनियर इंटेलीजेंस अफसर रॉ जोंग यिल कहते हैं कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों को भी अब एक महीने से कम समय तक रह गया है। वे बिल्कुल अपने नए हथियार इस परेड में शामिल करेंगे। क्योंकि वे जानते हैं कि दुनिया उन्हें देख रही है। इस परेड के जरिए दक्षिण कोरिया के लिए उनका संदेश होगा कि वे लगातार अपनी सैन्य और न्यूक्लियर ताकत जुटा रहे हैं।

उनका कहना है- अमेरिका और यूएन के लिए संदेश होगा कि अब समय उत्तर कोरिया के पक्ष में है। वे संदेश दे रहे हैं कि सभी पाबंदियों और उन्हें पैदा हुई दिक्कतों के बावजूद वे अभी भी नए और आधुनिक हथियार बना पा रहे हैं। चाहे वे किसी भी खतरे से डराया जाए, वे अपने रास्ते से नहीं हटेंगे। इससे अमेरिका में संदेश जाएगा कि ट्रम्प और उसम जोंग की मुलाकातें तटस्थ रूपी बनी रहीं और इससे ट्रम्प की कमजोर छवि उभर रही है।

नया इन्फ्रास्ट्रक्चर और सैनिकों का भारी विलाप

38 नॉर्थ नाम की वेबसाइट में 6 अक्टूबर को कुछ नए इलेक्ट्रॉनिक्स इमेज प्रकाशित हुए हैं। इन तस्वीरों में सैकड़ों गाड़ियां ग्राउंड के पास पार्क की गई थीं। तस्वीरों में सैकड़ों सैनिकों का मार्चपास्ट भी देखा गया है। हाल के महीनों में मिरिन ग्राउंड में कई ढांचागत विकास के काम पूरे किए गए हैं। इस ग्राउंड में अक्सर बड़े टैंक, आर्टिलरी यूनिट और मिस लॉचर की भीड़ देखी जाती है।





Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *