Share this


  • हिंदी समाचार
  • अंतरराष्ट्रीय
  • Google के ‘नूगलर्स’ की उत्पादकता कोरोनसाल में कम हो गई है, 62% श्रमिक हर सप्ताह और कुछ दिनों के लिए कार्यालय में आना चाहते हैं।

न्यूयॉर्क24 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट
  • वर्क फ्रॉम होम में धीमी गति से इंटरनेट स्पीड और स्पष्ट निर्देश की कमी से उत्पादकता घटी

कोरोनाकाल में Google के ‘नूगलर्स की उत्पादकता सबसे अधिक घटी है। Google में नए कर्मचारियों को नूगलर्स के नाम से जाना जाता है। जुलाई में Google के आंतरिक डेवलपर में उत्पादकता घटने के तीन प्रमुख कारण सामने आए हैं। पहला- वर्क फ्रॉम होम के कारण सीनियर्स नए लोगों को अपने सामने काम नहीं सिखा पा रहे हैं। दूसरा- घर पर उपलब्ध इंटरनेट की स्पीड अनियमित और कम होना और तीसरा- पहले की तुलना में कहीं ज्यादा वर्कलोड।

सर्वे के नतीजे के बाद अब माना जा रहा है कि सीईओ सुंदर पिचाई अब हाईब्रिड यानी मिले-जुले काम करने की प्रणाली काे अमल में लाएंगे। डेवलपर के मुताबिक कंपनी के 62% कर्मचारी हर सप्ताह कार्यालय आकर कुछ दिन काम करना चाहते हैं, जबकि केवल 10% कर्मचारियों ने कहा कि वे स्थाई तौर पर घर से काम करने के इच्छुक हैं।

जून तक के हुए डेवलपर में पाया गया था कि कंपनी के 31% इंजीनियर ही उच्चस्तर की उत्पादकता दे पा रहे थे, जबकि मार्च में यह आंकड़ा 40% था। हालांकि, जुलाई के बाद किए गए डेवलपर में उत्पादकता बढ़ी है। गूगल की प्रवक्ता केटी हचीसन ने सितंबर के सर्वे का हवाला देते हुए कहा कि अब गूगल में इस विषय पर मंथन चल रहा है कि नए इंजीनियर पर काम का अत्यधिक भार नहीं होने पर भी उनकी उत्पादकता क्यों घटी है। चर्चा का विषय ये भी है कि वर्क फ्रॉम होम से बड़े अधिकारियों से कोडिंग काे सीख न पाना नए समय की उत्पादकता छप रही है।

हाइब्रिड पॉलिसी यानी मेट-जुले वर्क की प्रणाली लागू होगी

Google के CEO सुंदर पिचाई ने पिछले महीने ही घोषणा की थी कि Google अब हाईब्रिड यानी मिले-जुले काम करने की प्रणाली काे अमल में लाएगा। यानी, सभी कार्यालय से काम करें या सभी के पास ये विकल्प होगा कि वे जब चाहें तब ऑफिस आकर काम करें या फिर मन कहे घर से काम करें। कोविड ट्रांस के खत्म होने की परिस्थिति में भी Google में यह हाईब्रिड पॉलिसी लागू रहेगी, जो रेडियो, फेसबुक और फेसबुक के नियमों की तुलना में कहीं ज्यादा प्रभावी सिद्ध होती दिखाई दे रही है।





Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *