Share this


  • हिंदी समाचार
  • अंतरराष्ट्रीय
  • अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प के संक्रमित होने के बावजूद अस्पताल के बाहर दिखाई दिया; कार में बैठे और मेरे समर्थकों का अभिवादन

वॉशिंगटन20 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प कुछ इस तरह से रविवार दोपहर वाल्टर हीड अस्पताल के बाहर अपने समर्थकों का अभिवादन करते नजर आए।

  • वाल्टर हीड अस्पताल के फिजिशियन डॉ। जेम्स फिलिप्स ने ट्वीट किया- ट्रम्प के साथ गाड़ी में मौजूद सभी लोगों को 14 दिन के लिए क्वारंटाइन होना चाहिए
  • अमेरिकी राष्ट्रपति की गाड़ी में उनकी सुरक्षा के लिए हमेशा सीक्रेट सर्विस के एजेंट्स मौजूद होते हैं, अब ये एजेंट्स के भी अस्थिर होने का खतरा है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्पर्ट होने के बावजूद कोरोनावायरस को गंभीरता से नहीं ले रहे। अपना इलाज जारी होने के बावजूद वह रविवार दोपहर वाल्टर हीड अस्पताल के बाहर नजर आया। काले रंग की एसयूवी में ट्रम्प वर्क लगाकर पिछली सीट पर बैठे थे। उन्होंने समर्थकों का हाथ हिलाकर अभिवादन किया। ऐसा करने से पहले उन्होंने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट कर इसकी जानकारी भी दी थी।

फैस को लेकर गैर जिम्मेदारी दिखाने के कारण पहले से ही ट्रम्प से विपक्षी पार्टियां और स्वास्थ्य एक्सपर्ट्स नाराज हैं। इलाज के बीच अस्पताल से बाहर निकलने पर उनकी एक बार फिर आलोचना हो रही है। विपक्षी डेमोक्रेट्स का कहना है कि ट्रम्प ने यह दिखाने की कोशिश की है कि वे निष्पक्ष होने के बावजूद बिल्कुल ठीक हैं।

हेल्थ एक्सपर्ट ने ट्रम्प की इस हरकत पर नाराजगी जाहिर की

वाल्टर हीड अस्पताल के फिजिशियन डॉ। जेम्स फिलिप्स ने ट्वीट किया- ट्रम्प के साथ गाड़ी में मौजूद सभी लोगों को अब 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन होना होगा। वे बीमार पड़ सकते हैं, उनकी मृत्यु तक हो सकती है। अपनी राजनीतिक नौटंकी के लिए ट्रम्प ने दूसरे लोगों की जान को खतरा में डाला है। यह पूरी तरह से पागलपन है। राष्ट्रपति की एसयूवी न सिर्फ बुलेटप्रूफ है, बल्कि यह रसायनल हमले से बचने के लिए सील भी है। ऐसे में इसके अंदर कोरोना संक्रमण फैलने का ज्यादा खतरा है।

ट्रम्प के साथ एसयूवी में हमेशा मौजूद होते हैं सिक्रेट एजेंट्स

अमेरिकी राष्ट्रपति की गाड़ी में उनकी सुरक्षा के लिए हमेशा सिक्रेट सेवा के एजेंटों मौजूद होते हैं। ट्रम्प ने गाड़ी का इस्तेमाल कर और सेल्फ क्वारंटाइन के नियमों को तोड़कर उनकी जान को खतरा में डाला है। विपक्षी पार्टी डेमोक्रेट्स का कहना है कि यह सब कुछ नहीं बल्कि चुनाव को देखते हुए ट्रम्प का एक फोटो ऑपरेशन है। इस बीच, ट्रम्प की पत्नी और फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रम्प ने अपने सभी दौरे कैंसल कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि संक्रमण दूसरों में न फैले इसलिए उन्होंने यह फैसला किया है।

‘राष्ट्रपति हैं, इसलिए अस्पताल भेजा गया’

ट्रम्प के अस्पताल से बाहर निकलने से पहले उनके व्यक्तिगत फिजिशियन डॉ। कोनले ने कहा था- प्रेसिडेंट बिल्कुल ठीक हैं। इलाज का असर हो रहा है। इससे हमारी टीम खुश है। अगले 24 घंटे में उनका लिन उतर जाएगा। ब्लड प्रेशर और हार्ट रेट भी नॉर्मल हो जाएगा। कोनले से जब पूछा गया कि सब ठीक था तो ट्रम्प को अस्पताल लाने की जरूरत क्यों पड़ी? इस पर जवाब मिला- क्योंकि, वे अमेरिका के राष्ट्रपति हैं।

ट्रम्प शुक्रवार कोर्ट मिले थे

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और पत्नी मेलानिया ट्रम्प कोरोना शुक्रवार को पॉजिटिव पाए गए थे। इसके बाद दोनों को क्वारंटाइन कर दिया गया था। इससे एक दिन पहने ट्रम्प की सीनियर एड्वेजर होप हिक्सटे पाए गए थे। पिछले दिनों उन्होंने राष्ट्रपति के साथ कई यात्राएं की थीं। इसके बाद राष्ट्रपति और उनकी पत्नी का भी कोरोना टेस्ट किया गया था। शुक्रवार को इसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।





Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *