Share this


PATNA : बिहार विधानसभा चुनाव के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को जमुई जिले के चकाई में चुनावी सभा की। सभा में नीतीश ने राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के शासनकाल को याद किया। उन्होंने कहा कि पहले कितने लोगों का नरसंहार होता था। 2005 में जब जनता ने हमें मौका दिया तो हमने कानून का राज कायम किया। जदयू के प्रत्याशी संजय प्रसाद के पक्ष में सभा को संबोधित करते हुए नीतीश ने कहा कि 2005 से हम निरंतर जनता की सेवा कर रहे हैं। जो तबका किनारे पड़ा हुआ था, हाशिए पर था, उसे हमने विकास की मुख्यधारा से जोड़ा। महिलाएं अब बिहार के विकास में मुख्य भूमिका निभा रही हैं। हमने महिलाओं को आगे लाने के लिए काम किया। पहले महिलाओं को कहां आरक्षण मिलता था। हमारी सरकार आई तब महिलाओं के लिए आरक्षण शुरू किया गया।

पहले बिहार की शिक्षा व्यवस्था कैसी थी? कितने स्कूल थे गांव में और उन स्कूलों की क्या हालत थी? कितने बच्चे बढ़ने जाते थे? गरीब लोग पांचवीं कक्षा के बाद अपनी बेटियों को पढ़ने नहीं भेजते थे। बच्चियों को पढ़ाने के लिए ड्रेस की जरूरत होती थी, जिसका खर्च वे नहीं उठा पाते थे। हमारी सरकार आई तो स्कूलों की स्थिति सुधारी। बच्चियां आगे पढ़ पाएं इसके लिए ड्रेस की व्यवस्था की। बच्चियों को स्कूल जाने में दिक्कत न हो इसके लिए सभी का साइकिल दी। नीतीश ने कहा कि महिलाओं के उत्थान के लिए हमने जीविका समूह का गठन किया। पति-पत्नी (लालू यादव और राबड़ी देवी) ने 15 साल राज किया। इस दौरान महिलाओं के उत्थान के लिए कोई काम नहीं हुआ। कोई स्वयं सहायता समूह नहीं बना। आज जीविका स्वयं सहायता समूह से 1.20 करोड़ महिलाएं जुड़ गई हैं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *