Share this


  • रिलायंस ने 12 निवेश से अब तक 1.17 लाख करोड़ रुपए जुटाए
  • जियो प्लेटफॉर्म्स की 25.09 प्रति भाग के लिए निवेश मिला

दैनिक भास्कर

जुलाई 03, 2020, 10:04 AM IST

नई दिल्ली। अमेरिकी कंपनी इंटेल कॉर डी पोरशन की इन्वेस्टमेंट आर्म इंटेल कैपिटल जियो प्लेटफॉर्म्स में 1894.50 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इस निवेश के माध्यम से इंटेल कैपिटल की जियो प्लेटफॉर्म्स में 0.39% हिस्सा हो जाएगा। यह जानकारी शुक्रवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने दी है।

4.91 लाख करोड़ रुपए की इक्विटी वेल्यू पर हुई साझेदारी

आरआईएल की ओर से जारी बयान के मुताबिक, इंटेल कैपिटल के साथ यह निवेश साझेदारी जियो प्लेटफॉर्म्स की 4.91 लाख करोड़ रुपए की इक्विटी वेल्यू पर हुई है। जियो प्लेटफॉर्म्स की इंटरप्राइज वेल्यू 5.16 लाख करोड़ रुपए तय की गई है। इस निवेश के जरिए इंटेल कैपिटल को जियो प्लेटफॉर्म्स की 0.39 फीसदी हिस्सेदारी फुली डायलूटिड आधार पर दी जाएगी।

12 निवेश से अब तक 1.17 लाख करोड़ रुपए जुटा चुके हैं

आरआईएल ने जियो प्लेटफॉर्म्स की हिस्सा बिक्री से 1,17,588.45 करोड़ जुटाए हैं। यह राशि 11 कंपनियों के 12 निवेश के जरिए जुटाई गई है। इसमें सबसे बड़ा निवेश फेसबुक का रहा है। फेसबुक ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 9.99% हिस्सा के लिए 43,573.62 करोड़ रुपये का निवेश किया है। आरआईएल को अब तक जियो प्लेटफॉर्म्स की 25.09 हिस्सेदारी के लिए निवेश मिल चुका है।

इन कंपनियों ने किया था निवेश

  • फेसबुक
  • सिल्वर ले
  • वि ० दे ० अनेक
  • सामान्य अटलांटिक
  • केकेआर
  • मुबादला
  • अबूधाबी येवुमेंट
  • टीपीजी
  • एल केटरन
  • पीआईएफ
  • इंटेल कैपिटल

आरआईएल की डिजिटल सब्सिडियरी में जियो प्लेटफॉर्म है

जियो प्लेटफॉर्म्स रिलायंस इंडस्ट्रीज की डिजिटल सब्सिडियरी है। यह कंपनी आरआईएल ग्रुप के डिजिटल बिजनेस एसेट्स जैसे रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड, जियो ऐप्स और हैप्टिक, रिवाइंड, फाइंड, नाउफ्लोट्स, हैथवे और डैन सहित कई अन्य एंटीटी में निवेश के संचालन करती है।

कंप्यूटर चिप मेक इंटेल है

इंटेल कॉरपोरेशन की खोज में बेहतरीन कंप्यूटर चिप बनाने के लिए होना चाहिए। इंटेल कैपिटल इनोवेटिव कंपनियों में विश्व स्तर पर निवेश करने के साथ, क्लाउड कंप्यूटिंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और 5 जी जैसे प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में काम करता है, जहां जियो भी कार्यरत है। इंटेल दो दशकों से अधिक समय से भारत में काम कर रहा है। इंटेल में बेंगलुरु और हैदराबाद में हजारों कर्मचारी काम कर रहे हैं।

भारत को डिजिटल सोसायटी बनाने में मदद मिलेगी इंटेल: मुकेश अंबानी

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि दुनिया के प्रौद्योगिकी लीडर्स के साथ हमारे संबंध और अधिक गहरा होने पर बहुत खुश हैं। भारत को दुनिया में एक अग्रणी डिजिटल सोसायटी में बदलने के हमारे दृष्टिकोण को मूर्त रूप देने में ये हमारे सहायक हैं। इंटेल एक सच्चा उद्योग लीडर है, जो दुनिया को बदलने वाली तकनीक और नवाचारों को बनाने की दिशा में काम कर रहा है। वैश्विक स्तर पर इंटेल कैपिटल के पास अग्रणी प्रौद्योगिकी कंपनियों में एक मूल्यवान संपत्ति होने का उत्कृष्ट रिकॉर्ड है। इसलिए हम प्रशिक्षण तकनीकों में भारत की क्षमताओं को आगे बढ़ाने के लिए इंटेल के साथ मिलकर काम करने के लिए उत्साहित हैं, जो हमारी अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों को सशक्त बनाने के लिए हैं।

भारत में डिजिटल परिवर्तन को ताकत देगा: वेंडेल ब्रूक्स

इंटेल कैपिटल के अध्यक्ष वेंडेल ब्रूक्स ने कहा कि भारत में कम लागत वाली डिजिटल सेवाओं को ताकत देने के लिए जियो प्लेटफॉर्म्स अपनी प्रभावशाली क्षमताओं का उपयोग कर रहा है। यह जीवन को समृद्ध बनाने के इंटेल के उद्देश्य के समरूप है। हमारा मानना ​​है कि डिजिटल पहुंच और डेटा, व्यापार और समाज को बेहतर बना सकते हैं। इस निवेश के माध्यम से भारत में डिजिटल परिवर्तन को हम ताकत देंगे।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *