Share this


वॉशिंगटन4 दिन पहले

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प बीते शनिवार को अस्पताल से वापस लौटने के बाद व्हाइट हाउस की बाल्कनी से अपने समर्थकों का अभिवादन करते हुए।- फाइल फोटो

  • ट्रम्प कैंपेन ने बीते सप्ताह फेसबुक के माध्यम से प्रचार पर 5.2 मिलियन (लगभग 38 करोड़ रु।) और बिडेन ने 5.9 मिलियन डॉलर (लगभग 43 करोड़ रु।) खर्च किए।
  • पोल्स में स्पष्ट है कि ट्रम्प को कोरोना पॉजिटिव होने पर कोई सहानुभूति नहीं मिल रही है, सीएनएन के पोल में वे बिडेन से 16 प्वाइंट पीछे हैं।

(एनी कर्नी और एस्टीड डब्ल्यू हर्नडन) बिडेन कैंपेन ने इस साल अब तक 500 मिलियन डॉलर (लगभग 3665 करोड़ रु।) खर्च किए हैं। पिछले महीने बिडेन कैंपेन ने टेलीविजन और रेडियो पर 40.3 मिलियन डॉलर (लगभग 295 करोड़ रु।) खर्च किए। वहीं, एडिंग फर्म एडवर्टाइजिंग एनेलेटिक के मुताबिक, ट्रम्प कैंपेन ने 23.3 मिलियन डॉलर (करीब 170 करोड़ रु।) खर्च किए हैं। यह पिछले सप्ताह उनकी ओर से प्रचार पर खर्च की गई राशि से थोड़ा अधिक है। ट्रम्प कैंपेन ने बीते सप्ताह फेसबुक के माध्यम से प्रचार पर 5.2 मिलियन (लगभग 38 करोड़ रु।) और बिडेन ने 5.9 मिलियन डॉलर (लगभग 43 करोड़ रु।) खर्च किए।
इस सप्ताह हुए पोल्स में ट्रम्प की जीत की तस्वीर धुंधली नजर आ रही है। यह स्पष्ट हो गया है कि कोरोना पॉजिटिव होने पर उन्हें कोई सहानुभूति नहीं मिल रही है। सीएनएन के पोल में उन्हें जो बिडेन से 16 प्वाइंट से पीछे दिखाया जा रहा है। सीएनएन के डेवलपर में इस साल अब तक ट्रम्प के बारे में इतना बुरा पोल नहीं आया है।

ट्रम्प के बारे में क्या कहते हैं पोल्स

सीएनएन का पोल ट्रम्प के वायरस की जांच होने के बाद किया गया। 63% अमेरिकियों ने कहा कि उन्हें लगता है कि ट्रम्प ने गैर जिम्मेदारी से काम किया है या है। उन्होंने अपने आसपास रहने वाले लोगों की सुरक्षा और संक्रमण के खतरे को नजरअंदाज किया। न्यूयॉर्क टाइम्स और सिएना कॉलेज के पोल में भी ट्रम्प पिछड़ते नजर आ रहे हैं। इस दोनों पोल ​​में ट्रम्प नेवादा में बिडेन से 6 प्वाइंट से पीछे हैं। चार साल पहले ट्रम्प ने ओहियो से जीत हासिल की थी, लेकिन पोल में भी वह बिडेन से 1 प्वाइंट से पिछड़े नजर आ रहे हैं।

ट्रम्प के बर्ताव से वोटर्स उन्हें दूर हुए

चुनाव में तीन सप्ताह से भी कम का समय बाकी रह गया है। कई राज्यों में यह शुरू भी हो चुका है। ऐसे में देश भर में ट्रम्प का समर्थन उनके विरोधियों के मुकाबले काफी कम हो रहा है। उनके बर्ताव की वजह से महिलाएं, बुजुर्ग और कस्बों में रहने वाले वोटर्स उन्हें दूर हो रहे हैं। ये सबके बीच कोरोनावायरस की वजह से अस्पताल में भर्ती वापस लौटे ट्रम्प फिर से प्रचार करने के लिए बेताब हैं। उन्होंने शनिवार को डॉक्टर्स से नोट भी हासिल भी कर लिया है, जिसमें कहा गया है कि ट्रम्प लोगों के बीच जा सकते हैं। संबंधों को नहीं फलेगा।

व्हिट हाउस में प्रोग्राम करने की योजना बना रही ट्रम्प

ट्रम्प वाइट हाउस के साउथ लॉन पर हजारों लोगों की बुकिंग करने की योजना बना रहे हैं। यह कोरोना पॉजिटिव होने के बाद उनका पहला इन-पर्सन इवेंट होगा। वह दिखाने के लिए बेचैन हैं कि जब उनके सेहत की बात हो तो चिंता करने की कोई वजह नहीं है। वे बताना चाहते हैं कि क्या मेडिकल कारण ही क्यों न हो, उन्हें रोका नहीं जा सकता है। डिबेट कमीशन ने सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए 15 अक्टूबर को वर्ग डिबेट प्रदान करने का फैसला किया था। हालाँकि, ट्रम्प के इसमें शामिल होने से इनकार करने के बाद अब यह कैंसिल कर दिया गया है।

कैंपेन में वापसी से ट्रम्प को फायदा नहीं

ट्रम्प के साथ समस्या है कि अगर वे निजी तौर पर कैंपेन में बदलाव करते हैं तो जरूरी नहीं कि यह उनके राजनीतिक तौर पर सस्ते हो। उन्होंने दो सप्ताह पहले पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन के साथ डिबेट की थी। इसमें वह बिडेन को बीच में टोकते रहे, उनके अंजज भी काफी सहयोगी थे। हालांकि, फोकस ग्रुप के मुताबिक, इस इस डिबेट से उन्होंने अनडिसाइडेड वोटर्स (ऐसे वोटर्स जो न तो तो रिपब्लिकन के सपोर्ट में और नहीं डेमोक्रेटिक के) को खुद से दूर करने का काम किया।

ट्रम्प ने सबकुछ ठीक दिखाने की कोशिश की

ट्रम्प ने गुरुवार को फोन से दो इंटरव्यू दिए। उन्होंने अपने समर्थकों को यह जतन की कोशिश की सबकुछ ठीक है उन्होंने अपने राजनीतिक सहयोगियों पर आरोप लगाए। हालांकि जब गुरुवार की रात सीन हैननिटी के शो में बातचीत की तो उनकी आवाज भारी थी। इसके साथ ही शुक्रवार को उन्होंने राइट विंग के समर्थक माने जाने रेडियो होस्टेज लिम्बग से बातचीत की। इस शो में भी उन्होंने जल्द ही सेशन खत्म कर दिया।

ट्रम्प कैंप के साथ कैश फ्लो से जुड़ी समस्याएँ

ट्रम्प का कैंपेन सिर्फ टीवी विज्ञापन खरीदने का पैमाना बनकर रह गया है। हालांकि, अब ट्रम्प कैंपेन टीवी विज्ञापनों पर होने वाले खर्च में कटौती कर रहा है, क्योंकि यह कैश फ्लो से जुड़े मुद्दों का सामना कर रहा है। इसके साथ ही यह राष्ट्रपति को लेकर व्हाइट हाउस के फैसले का इंतजार कर रहा है। कैंपेन इस इंतजार में है कि कब ट्रम्प वापस लौटेंगे और चुनाव प्रचार शुरू करेंगे। इसी तरह, ऐसा भी कहा जा रहा है कि ट्रम्प ने 10 दिन तक लोगों से दूर रहने के बाद नए शेड्यूल तैयार करने को कहा है।
पेंस ने ट्रम्प की छवि सुधारने की कोशिश की।
वाइस प्रेसिडेंशियल डिबेट ने माइक पेंस ने ट्रम्प की छवि सुधारने की कोशिश की। डेमोक्रेटिक पार्टी की वाइस प्रेसिडेंशियल कैंडिडेट ने पेन से ट्रम्प की नीतियों का बचाव करने को कहा। इसके जवाब में उन्होंने कहा कि वे ट्रम्प को उस नजरिए से न देखें जैसे बहुत सारे विदेशी शो हैं। उन्होंने कहा कि ट्रम्प पेर्स को गंभीरता से लिया गया है। हालांकि, वह इलेक्टोरल स्पेल पर ट्रम्प की ओर से उठाए गए सवालों को नजरअंदाज करते हुए नजर आए। इसके साथ ही व्हाईट सुपरमेसी जैसे मुद्दों पर भी कुछ नहीं किया गया।





Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *