Share this


वॉशिंगटन2 दिन पहले

मंगलवार रात पेन्सिलवेनिया के जॉन्सटाउन शहर में रैली के दौरान डोनाल्ड ट्रम्प।

  • के बाद डोनाल्ड ट्रम्प ने पेन्सिलवेनिया में चुनावी रैली की, एक बार फिर बाइडेन का मजाक उड़ाया
  • ट्रम्प ने आरोप लगाया कि डेमोक्रेट पार्टी और बाइडेन चीन के प्रति नर्म रुख अपनाते आए हैं

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में तीन सप्ताह से भी कम समय रह गया है। कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने एक बार फिर रैलियों का सिलसिला शुरू कर दिया है। सोमवार को आईवी के बाद ट्रम्प मंगलवार रात पेन्सिलवेनिया के जॉन्सटाउन पहुंचे। यहां उन्होंने डेमोक्रेट पार्टी और उनके प्रेसिडेंशियल कैंडिडेट जो बाइडेन पर तंज कसे। कहा- अगर बाइडेन जीतते हैं तो चीन को फायदा होगा। वे उन टेरिफ्स यानी शुल्क को हटा देंगे जो हमारी सरकार ने चीन पर लगाए हैं।

मैंने चीन के खिलाफ सख्त फैसले लिए
हजारों समर्थकों को संबोधित करते हुए ट्रम्प ने कहा- मैंने अपने कार्यकाल में चीन के खिलाफ सबसे सख्त फैसले किए। हमने अमेरिका में किताब बचाईं। मैंने चीन पर भारी शुल्क लगाया और ये पैसा अपने किसानों को दिया। हमने चीन से अपना मुनाफा वापस लिया। इस मामले में अब काफी काम बाकी है। अगर बाइडेन जीतते हैं तो समझिए की चीन जीत गई है। अगर मैं जीतता हूं तो पेन्सिलवेनिया विनगा, अमेरिका जीतेगा।

एडवाइजर्स की सलाह से भाषण
कैम्पेन के दूसरे दौर में ट्रम्प भाषण के पहले एडवाइजर्स की सलाह ले रहे हैं। पेन्सिलवेनिया और एंड में भाषण के लिए उन्होंने टेलिप्रॉम्पटर का इस्तेमाल किया। इसका मकसद साफ था कि वे लोग सही मैसेज तक पहुंच सकें। यानी मुद्दों पर बात करें, इनसे भटकें नहीं। ट्रम्प कैंपेन अब उन राज्यों पर ध्यान केंद्रित कर रहा है जहां वह कमजोर है। राष्ट्रपति ने जॉन्सटाउन में बाइडेन पर आरोप लगाया कि वे अमेरिका से बाहर भेजेंगे। फैक्ट्रियां बंद कर देंगे और शहरों को तबाह कर देंगे।

भाषण देने में कठिनाई
पेन्सिलवेनियां की रैली में एक बार फिर साफ हो गया कि ट्रम्प को बोलने में कठिनाई हो रही है। हालाँकि, मैं की तरह वे यहाँ भी खुद से हहमतंद दिखाने की कोशिश कर रहे हैं। बाइडेन पर उन्होंने कहा- मैं अमेरिकी इतिहास के सबसे खराब उम्मीदवार का सामना कर रहा हूं। इसकी कमी मुझ पर है। अगर मैं उनसे हार गया तो इस पर यकीन करना मुश्किल होगा। अब तक जो नेशनल डेवलपर आए हैं वे कहते हैं कि ट्रम्प अब दो अंकों (यानी 10 से ज्यादा पॉइंट्स से) पीछे लौट रहे हैं।

ट्रम्प ने नुकसान की भरपाई की कोशिश की। इसके लिए बाइडेन के दिमागी सेहत को फिर मुद्दा बनाया गया। कहा- बाइडेन को तो ये भी पता नहीं चलता है कि वे क्या कह रहे हैं। क्या मैं ऐसे व्यक्ति के खिलाफ चुनाव हार सकता हूं। अगर ऐसा हुआ तो मैं फिर कभी पेन्सिलवेनियां नहीं आउंगा।





Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *