Share this


PATNA : कोरोना को लेकर धार्मिक आयोजनों पर रोक के बावजूद बीती देर रात भागलपुर (Bhagalpur) में पैकरों ने जमकर उत्पात मचाया और रोकने के लिए गयी पुलिस पर पथराव भी कर दिया. पैकरों ने कोतवाली चौक और क़िला घाट इमामबाड़ा (Qila Ghat Imambara) में जमकर उपद्रव किया. पथराव में एक पुलिस जवान अनिल ठाकुर का सिर फट गया और कई पुलिसकर्मियों को चोटें आईं. पैकरों ने पुलिस के साथ धक्का-मुक्की और जवानों के साथ मारपीट भी की जिसके बाद पुलिस को भी लाठीचार्ज करना पड़ा. बताया जा रहा है कि करीब 100 की संख्या में पैकर उत्पात मचा रहे थे जिसके बाद सीनियर एसपी, सिटी एसपी, सिटी डीएसपी, ट्रैफिक डीएसपी, सदर एसडीओ समेत कई थाना की पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस लाइन से भी अतिरिक्त पुलिस बलों को बुलाया गया और घंटों की मशक्कत के बाद मामला शांत हुआ. इसके बाद भी उपद्रव (Fuss) मचाते हुए ही पैकरों का झुंड वापस लौटा. पैकरों ने बैरिकेडिंग तोड़ने के साथ इमामबाड़ा में भी तोड़फोड़ की.

पैकरों ने सबसे पहले क़िला घाट इमामबाड़ा में हंगामा किया. सड़क पर मुहर्रम कमिटी के लोगों के साथ खड़े तातारपुर थानेदार सुबोध कुमार ने जब उन्हें इमामबाड़ा में रोकने की कोशिश की तो हंगामा करते हुए पैकरों ने धक्का-मुक्की करनी शुरू कर दी. इसके बाद पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया. क़िला घाट से खदेड़े जाने के बाद पैकरों का झुंड कोतवाली चौक इमामबाड़ा पहुंच गया और बैरिकेडिंग को तोड़ते हुए इमामबाड़ा में प्रवेश की कोशिश की. पुलिस ने जब उन्हें रोका तो मारपीट और पथराव करते हुए इमामबाड़ा में प्रवेश कर गये और बैरिकेडिंग सहित इमामबाड़ा में तोड़फोड़ की. सीसीटीवी को भी तोड़ दिया और इमामबाड़ा के मोजाबर मोहम्मद सल्लो को जख्मी कर दिया. पथराव में कई पुलिसकर्मी भी चोटिल हो गये, जिसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया और भीड़ को खदेड़ दिया. मंदरोजा चौक पर भी पैकरों ने हंगामा किया और राहगीरों के साथ मारपीट की. स्थानीय लोग जब पुलिस के साथ खड़े हो गये तो वहां से पैकर्स भाग खड़े हुए. मौके पर पहुंचे सीनियर एसपी ने क़िला घाट और कोतवाली चौक पर हुए हंगामे को लेकर दो अलग-अलग एफआईआर दर्ज करने की बात कही और उपद्रवियों को चिन्हित कर कठोर कार्रवाई करने का निर्देश दिया. एसएसपी ने बताया कि सेंट्रल रैफ की टीम भागलपुर पहुंची है और मुहर्रम को लेकर संवेदनशील इलाकों पर उनकी तैनाती की जायेगी. उन्होंने उपद्रवियों को किसी भी सूरत में नहीं बख्शने की बात कही. घटना के बाद से इलाके में भारी संख्या में पुलिस बलों की प्रतिनियुक्ति कर दी गयी है. सभी थाना पुलिस को एसएसपी ने अलर्ट कर दिया है और सरकार एवं जिला प्रशासन के निर्देश के आलोक में सख्ती के साथ उपद्रवियों से निबटने के आदेश दिये हैं.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *