Share this


PATNA : भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने शरद पवार राम मंदिर के भूमिपूजन के जाने वाले बयान पर पलटवार किया है. भाजपा नेता ने शरद पवार के बयान पर पलटवार करते हुए उन्होंने कहा कि ये बयान पीएम मोदी के खिलाफ नहीं राम के खिलाफ है. बता दें कि NCP नेता शरद पवार की टिप्पणी कि थी कि हम सोच रहे हैं कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई कैसे लड़ी जाए जबकि कुछ लोगों को लगता है कि कोरोना मंदिर बनाकर जाएगा. बता दें कि अयोध्या के बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में लखनऊ में सीबीआई की विशेष अदालत में उमा भारती के खिलाफ फिलहाल सुनवाई चल रही है. गौरतलब है कि बाबरी मस्जिद मामले में सुप्रीम कोर्ट ने 31 अगस्त तक ट्रायल पूरा करने का आदेश दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या में 1992 राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद विवादित ढांचा गिराये जाने की घटना से संबंधित मुकदमे की सुनवाई पूरी करने के लिये विशेष अदालत का कार्यकाल मई में तीन महीने बढ़ा दिया था. बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले का ट्रायल अगस्त तक पूरा करने की डेडलाइन सुप्रीम कोर्ट ने तय की है. इस मामले में एलके आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी सहित कई नेताओं के खिलाफ ट्रायल चल रहा है.

गौरतलब है कि पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल होंगे. प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार नरेंद्र मोदी अयोध्या जायेंगे. श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने प्रधानमंत्री मोदी को भूमि पूजन के लिए आमंत्रित किया था. तीन व पांच अगस्त में किसी एक दिन अयोध्या आने का न्योता दिया था. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पीएमओ ने पांच तारीख पर मुहर लगा दी है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *