Share this


  • हिंदी समाचार
  • अंतरराष्ट्रीय
  • कमला हैरिस माइक पेंस, अमेरिका के उपराष्ट्रपति वाद-विवाद 2020 नवीनतम अद्यतन | अमेरिकी चुनाव 2020 समाचार और लाइव कवरेज अपडेट

वॉशिंगटन10 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट
  • पहली और एकमात्र वाइस प्रेसिडेंशियल डिबेट साल्ट लेक सिटी में हो रही है
  • दोनों कैंडिडेट्स के बीच 12 फीट की दूरी रखी गई है, पहले यह 7 फीट ही तय की गई थी

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के बीच आज पहला और एकमात्र वाइस प्रेसिडेंशियल डिबेट साल्ट लेक सिटी में हो रहा है। रिपब्लिकन पार्टी की तरफ से उपराष्ट्रपति माइक पेन्स और डेमोक्रेट पार्टी की ओर से उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस इसमें भाग ले रही हैं। डिबेट में पहला मुद्दा कोरोनावायरस ही रहा। हैरिस ने शुरुआत से ही आक्रामक रुख को अपनाया। कहा- कोरोना के मुद्दे पर ट्रम्प सरकार पूरी तरह से नाकाम साबित हो रही है। इसके हजारों उदाहरण दिए जा सकते हैं। इस पर माइक पेन्स ने कहा- हमने चीन से आने वाले लोगों पर रोक लगाई। इससे हजारों अमेरिकियों की जान बचाई जा सकी। बहस को यूएसए टुडे की सुसान पेज टोकेट कर रहे हैं।

ट्रम्प के पॉजिटिव पाए जाने के बाद पेन्स रोज़ टेस्ट करा रहे हैं। बुधवार रात उन्होंने कहा- मैंने फिर से टेस्ट कराया है। मेरी रिपोर्ट निगेटिव आई है। व्हाइट हाउस में अब तक 18 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं। तीन सीनेटर्स और ट्रम्प के कई एडवाइजर्स शामिल हैं।

12 फीट की दूरी
पहली और एकमात्र वाइस प्रेसिडेंशियल डिबेट आज साल्ट लेक सिटी में हो रही है। दोनों के सामने प्रोटेक्शन ग्लासेस यानी शीशे लगाए गए हैं। दोनों कैंडिडेट्स के बीच 12 फीट की दूरी होगी। पहले यह 7 फीट ही तय की गई थी। पेन्स ने पहले glues लगाने का विरोध किया था। बाद में इसके लिए तैयार हो गए।

कोरोनावायरस
पेन्स ने कहा- आप हर बात के लिए राष्ट्रपति ट्रम्प को गुनाहगार क्यों रोक रहे हैं। उन्होंने चीन से आने वाले लोगों पर रोक लगाकर दिखा दिया है कि वे कितने सख्त फैसले ले सकते हैं। उन्होंने हजारों लोगों की जान बचाई है।

हैरिस: यह सरकार दूसरी बार चुनाव जीतने लायक नहीं है। वे लोग का भरोसा खो चुके हैं। ट्रम्पिहा ने महामारी को ढकने की कोशिश की। राष्ट्रपति महामारी को झूठ बताते हैं। राष्ट्रपति और आपको 28 जनवरी को ही इस बारे में पता लग गया था। लेकिन, आपकी सरकार हाथ पर हाथ रखकर चुपचाप तमाशा देखती रही।

के सुसान पेज ने पेन्स से पूछा- क्या आपने राष्ट्रपति से उनके संक्रमण और बढ़ती उम्र के बारे में पूछा है? वे कौन हैं गौरौर राष्ट्रपति अपनी जिम्मेदारियों को संभालने में सक्षम हैं। पेन्स ने इस सवाल का जवाब नहीं दिया।

कोरोना वैक्सीन
वैक्सीन से जुड़े सवाल पर कमला ने कहा- वैक्सीन आ हो और राष्ट्रपति ट्रम्प इसे लगवाने को कहें तो भी मैं नहीं लगवाऊंगी। हां, अगर डॉक्टर कहते हैं कि वैक्सीन लगवाई जा सकती है तो मैं सबसे पहले ऐसा करूंगी, लेकिन ट्रम्प की बात पर भरोसा नहीं कर सकता।

इस पर पेन्स ने कहा- आप वैक्सीन के मुद्दे पर भी सियासत कर रहे हैं। हम लोगों को क्या मैसेज दे रहे हैं। राजनीति बंद हो जाएगी। यह लोगों की जिंदगी से जुड़ा मामला है।

अर्थव्यवस्था
हैरिस: बराक ओबामा के कार्यकाल में हम ओबामा कैर बिल लेकर आए थे। इससे 2 करोड़ अमेरिकियों को फायदा हुआ। स्वास्थ्य इंडेक्स बहुत बेहतर हुआ। राष्ट्रपति और आपकी सरकार इस पर पैच लगा रही है। इससे इकोनॉमी पर भी अत्यधिक वृद्धि होगी। जिम्मेदारी कौन लेगा।

पेन्स: बाइडेन का इकोनमिक योजना लागू करना तो चीन के सामने सरेंडर करना होगा। आप चीन के सामनेne टेकने का प्लान दे रहे हैं। ट्रम्प ने कहा है कि वे टैक्स कम करेंगे। 4 लोगों की फैमिली की एवरेज इनकम 4 हजार डॉलर सालाना हो चुकी है। यह इसलिए हो गया क्योंकि हमने टैक्स कम किया था।

अमेरिका-चीन संबंध
पेन्स: कई साल से बाइडेन चीन के चियर लीडर बने हुए हैं। जब चीन के लोगों पर प्रतिबंध लगाए गए और सख्त कार्रवाई की गई तो आपकी पार्टी और बाइडेन ने इसका विरोध क्यों किया। क्या आप नहीं मानतीं कि कोरोनावायरस फैलाने के पीछे सिर्फ चीन का हाथ है।

हैरिस: यह दावा तो आप बिल्कुल नहीं कर सकते। आपके दौर में अमेरिका चीन के साथ ट्रेड वॉर हार चुका है। किसान दिवालियापन हो रहे हैं। मैन्युफैक्चरिंग के लिहाज से हम संदेह के दौर में पहुंच चुके हैं। देश में बीमारियों की कमी हो गई।

ट्रम्प की हेल्थ पर पेन्स चुप
समाचार सुसान पेज ने पेन्स से पूछा- क्या अमेरिका के लोग राष्ट्रपति की सेहत के बारे में जान लेंगे। इस सवाल का जवाब देने से पेन्स ने एक तरह से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा- इस बारे में गलत बातें फैलाई जा रही हैं। जो जरूरी होगा, वह जानकारी दी जाएगी। पेन्स ने हैरिस को वाइस प्रेसिडेंशियल कैंडिडेट बनने पर बधाई दी। कहा- ये सम्मान हासिल करने वाली वे पहली अश्वेत महिला हैं।

हैरिस ने कहा- जीत के लिए शुक्रिया। लेकिन, राष्ट्रपति अपनी सेहत के बारे में जानकारी क्यों नहीं देते। ये बात आपको देश के सामने लानी चाहिए।





Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *