Share this


कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए बुधवार को पूरे बंगाल में लगाए गए पूर्ण लॉकडाउन के चलते जनजीवन की रफ्तार एक बार फिर थम सी गई। राज्य सरकार द्वारा 20 जुलाई को घोषित हफ्ते में 2 दिन पूर्ण लॉकडाउन की योजना के तहत यह तीसरे दिन लॉकडाउन रहा। इससे पहले 23 व 25 जुलाई को पूर्ण लॉकडाउन लागू किया गया था।

इधर, लॉकडाउन के कारण कोलकाता सहित पूरे राज्य भर में सुबह से रात तक सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। जरूरी सेवाओं को छोड़कर सभी दुकानें, बाजार, सरकारी व निजी कार्यालय, व्यापारिक प्रतिष्ठान, बैंक आदि बंद रहा और परिवहन के सभी माध्यम सड़कों से नदारद रहे। कोलकाता एयरपोर्ट से भी इस दिन सभी विमानों की आवाजाही बंद रही।

वहीं हावड़ा, सियालदह व राज्य के अन्य स्टेशनों से खुलने व आने वाली सभी स्पेशल ट्रेनों की आवाजाही भी बंद रहीं जिसे पहले ही रद्द कर दिया गया था। राज्य सरकार के निर्देशानुसार सुबह 6 बजे से लेकर रात्रि 10 बजे तक पूर्ण लॉकडाउन का पालन किया गया और इस दौरान बेवजह घरों से निकलने पर पूरी तरह प्रतिबंध रहा। लॉकडाउन के दौरान केवल दवा की दुकानों और स्वास्थ्य प्रतिष्ठानों आदि को खुला रखने की अनुमति थी।

लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए पुलिस प्रशासन भी काफी मुस्तैद नजर आई और जगह-जगह नाका चेकिंग व बैरिकेड लगाए गए थे।

बिना वैध कारण के सड़कों पर पैदल या बाहर लेकर निकलने वाले लोगों पर कड़ी नजर रखी गई और उनसे पूछताछ की गई। जरूरी कारण नहीं बताने पर वाहन जब्त करने के साथ बड़ी संख्या में गिरफ्तारियां भी की गई।कोलकाता सहित पूरे राज्य में सभी बड़े चौराहों पर पुलिस ने गश्त की। कोलकाता पुलिस ने ड्रोन से भी नजर रखी। उल्लेखनीय है कि राज्य में 31 अगस्त तक हर हफ्ते 2 दिन का लॉकडाउन रहेगा। अगले महीने 5,8,16,17, 23, 24 व 31 अगस्त को संपूर्ण लॉकडाउन रहेगा।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *