Share this


PATNA : उत्तर प्रदेश में लगातार ऐसी घटनाएं हो रही हैं जो राज्य की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े कर रही हैं. गुरुवार को बलिया में हुए गोलीकांड में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जिसका मुख्य आरोपी अभी भी फरार है. अब इस घटना को लेकर राजनीतिक प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा प्रमुख मायावती ने यूपी सरकार पर निशाना साधा है. बसपा प्रमुख मायावती ने अपने ट्वीट में लिखा है कि यू.पी. में बलिया की हुई घटना अति-चिन्ताजनक तथा अभी भी महिलाओं व बच्चियों पर आए दिन हो रहे उत्पीड़न आदि से यह स्पष्ट हो जाता है कि यहां कानून-व्यवस्था काफी दम तोड़ चुकी है. सरकार इस ओर ध्यान दे तो यह बेहतर होगा, बी.एस.पी. की यह सलाह है.

यू.पी. में बलिया की हुई घटना अति-चिन्ताजनक तथा अभी भी महिलाओं व बच्चियों पर आयेदिन हो रहे उत्पीड़न आदि से यह स्पष्ट हो जाता है कि यहाँ कानून-व्यवस्था काफी दम तोड़ चुकी है। सरकार इस ओर ध्यान दे तो यह बेेहतर होगा। बी.एस.पी. की यह सलाह। समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने इस बारे में ट्वीट किया और कहा कि बलिया में सत्ताधारी भाजपा के एक नेता के, एसडीएम और सीओ के सामने खुलेआम, एक युवक की हत्या कर फरार हो जाने से उप्र में कानून व्यवस्था का सच सामने आ गया है. अब देखें क्या एनकाउंटरवाली सरकार अपने लोगों की गाड़ी भी पलटाती है या नहीं. #नहींचाहिएभाजपा

कांग्रेस नेता उदित राज ने भी इस मसले पर ट्वीट किया और लिखा कि मर्डर और रेप यूपी में रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं. योगीजी अब सरकार चलाने के लिए फिट नहीं हैं और ठीक होगा कि वो कुंभ मेला जैसे धार्मिक कार्यक्रमों को संभालें. मायावती से पहले भीम आर्मी के चंद्रशेखर ने भी यूपी सरकार को इस मसले पर घेरा था. चंद्रशेखर ने ट्वीट में लिखा था कि उत्तर प्रदेश में भाजपा के नेता धीरेंद्र सिंह ने बलिया में SDM और CO के सामने जयप्रकाश पाल को गोली मारकर, योगी के जंगलराज में एक और तमगा जड़ दिया. सत्ता का संरक्षण प्राप्त अपराधी जानते हैं कि मुख्यमंत्री अपना है कार्यवाही तो होगी नहीं इसलिए खुलेआम गरीबों की हत्याएं करते रहो. उत्तर प्रदेश में भाजपा के नेता ठाकुर धीरेंद्र सिंह ने बलिया में SDM और CO के सामने जयप्रकाश पाल को गोली मारकर, योगी के जंगलराज में एक और तमग़ा जड़ दिया। सत्ता का संरक्षण प्राप्त अपराधी जानते है कि मुख्यमंत्री अपना है कार्यवाही तो होगी नही इसलिये खुलेआम गरीबो की हत्याएं करते रहो।

समाजवादी पार्टी की ओर से इस घटना पर ट्वीट किया गया. सपा ने लिखा कि सत्ताधीश खुलेआम कानून व्यवस्था को चुनौती दे रहे हैं. बलिया में कानून व्यवस्था को ठेंगा दिखाने वाली खौफनाक वारदात सामने आई है जहां एसडीएम और सीओ के सामने भाजपा नेता ने युवक जय प्रकाश पाल की गोली मारकर हत्या कर दी. पुलिस के सामने से गोली मारकर बीजेपी नेता फरार भी हो गया. सत्ताधीश खुलेआम कानून व्यवस्था को चुनौती दे रहे हैं। बलिया में कानून व्यवस्था को ठेंगा दिखाने वाली खौफनाक वारदात सामने आई है जहां एसडीएम और सीओ के सामने भाजपा नेता ने युवक जय प्रकाश पाल की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस के सामने से गोली मारकर बीजेपी नेता फरार भी हो गया।

गौरतलब है कि बलिया के रेवती थाना क्षेत्र के दुर्जनपुर गांव में 15 अक्टूबर को दोपहर बाद पुलिस और जिला प्रशासन के आला अधिकारियों की मौजूदगी में एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी गई. वारदात उस वक्त हुई जब कोटा की दुकान के लिए एसडीएम और सीओ की मौजूदगी में गांव में खुली बैठक चल रही थी. इस मामले का मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह है जो अभी तक फरार है. धीरेंद्र प्रताप सिंह बलिया के बेरिया से बीजेपी के चर्चित विधायक सुरेंद्र सिंह का करीबी बताया जाता है. हालांकि, बीजेपी ने आरोपी का पार्टी से कोई संबंध होने से इनकार किया है. कांग्रेस ने इसके अलावा बाराबंकी में सामने आई रेप की घटना पर भी ट्वीट किया. यूपी कांग्रेस ने अपने ट्वीट में लिखा कि बाराबंकी में दलित किशोरी से हाथ पैर बांधकर रेप किया गया फिर गला घोंटकर हत्या कर दी गई. क्या हाथरस की बेटी की तरह भाजपा इस बेटी के साथ दुष्कर्म को भी नकार देगी? मुख्यमंत्री की पुलिस मामले में लीपापोती करने में जुट गई है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *