Share this


PATNA : एसटीईटी यानि शिक्षक पात्रता परीक्षा 2019 की पुनर्परीक्षा को लेकर तारीखों के साथ परीक्षा केंद्र की सूची जारी कर दी गयी है. 9 सितंबर से 21 सितंबर तक परीक्षार्थियों को पुनर्परीक्षा में भाग लेना पड़ेगा. परीक्षार्थियों के लाख विरोध के बाद भी पुनर्परीक्षा पर रोक नहीं लग सकी और शिक्षा विभाग और बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने शेड्यूल जारी कर दिया है. शेड्यूल के अनुसार 9 सितम्बर से 21 सितम्बर तक पटना, भोजपुर, नालंदा, औरंगाबाद ,गया, समस्तीपुर, दरभंगा, भागलपुर ,मुजफ्फरपुर, वैशाली ,पूर्णिया ,और छपरा कुल 12 जिलों में परीक्षा केंद्र बनाया गया है.

परीक्षा तीन पालियों में होगी और प्रत्येक पाली 2 घंटे 30 मिनट की होगी. परीक्षा पूरी तरह से ऑनलाइन तरीके से आयोजित होगी और परीक्षा प्रारंभ होने से एक घंटा पूर्व परीक्षा भवन में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी. आदेश के मुताबिक परीक्षार्थियों को जूता-मोजा पहनाना वर्जित है और उसकी जगह चप्पल पहनकर परीक्षा भवन में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी. परीक्षा भवन में किसी प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स ,मोबाइल ,ब्लूटूथ, पेजर, इरेजर और ब्हाईटनर आदि रखने की अनुमति नहीं है.

इस बार बदलाव के साथ ऑनलाइन परीक्षा बिहार बोर्ड खुद नहीं ले रहा बल्कि बेल्ट्रॉन द्वारा लिया जा रहा है. परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र में प्रवेश करने से लेकर परीक्षा भवन छोड़ने तक कोविड-19 महामारी के लिए भारत सरकार और बिहार सरकार के गृह विभाग द्वारा जारी दिशा निर्देश को कड़े रूप से पालन करना होगा. कदाचार मुक्त एवं शांति पुनर्परीक्षा को लेकर संबंधित जिलाधिकारी अपने वरीय पुलिस अधीक्षक और संबंधित अधिकारियों के साथ संयुक्त बैठक और समीक्षा करेंगे. परीक्षा केंद्रों पर जैमर लगाया जाऐगा ताकि परीक्षार्थी परीक्षा भवन में मोबाइल नहीं ले जा सकें. केंद्रों पर वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी, इस दौरान वीक्षक को भी मोबाइल रखने की अनुमति नहीं दी गई है. मालूम हो कि राज्य में 28 जनवरी को एसटीईटी की परीक्षा आयोजित हुई थी जिसे 6 माह बाद बोर्ड ने जांच कमिटी की रिपोर्ट आने के बाद कदाचार और गड़बड़ी के आरोप में रद्द कर दिया था और अब पुनर्परीक्षा का आयोजन कराया जा रहा है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *