Share this


PATNA : उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुई गैंगरेप की वारदात से पूरा देश सकते में है। हर तरफ आरोपियों को फांसी देने की मांग की जा रही है। कोरोना काल के बावजूद भी लोग सड़कों पर विरोध जता रहे हैं, लेकिन इन सबके बाद भी बलात्कार की खबरें लगातार सामने आ रही हैं। मध्यप्रदेश के खरगोन जिले से 60 किलोमीटर दूर झिरन्या तहसील में 15 साल की लड़की के अपहरण और गैंगरेप की घटना सामने आई है। 3 आरोपी फरार हैं। पीड़ित 19 साल के भाई के साथ खेत में झोपड़ी बनाकर रहती है। दोनों उसी खेत में मजदूरी करते हैं। भाई ने बताया कि मंगलवार रात 1 बजे तीन युवक आए, उन्होंने पीने के लिए पानी मांगा। पानी लेने के बाद तीनों चले गए। दस मिनट बाद तीनों वापस आए और इस बार शराब मांगी। मना करने पर तीनों बहन को उठाकर ले गए। मैंने विरोध किया तो उसे डंडे से खूब पीटा। मैंने खेत मालिक और परिवारवालों को फोन किया। परिजन पहुंचे तो बहन को ढूंढना शुरू किया। वह रास्ते में पड़ी मिली। पीड़ित ने बताया कि तीनों ने उसका मुंह कपड़े से बांध दिया था ताकि चिल्ला न सकूं। तीनों ने दुष्कर्म के बाद मुझे लात-घूंसों से पीटा। मेरा गला दबा रहे थे। मुझे लगा अब नहीं बचूंगी, लेकिन मुझे छोड़कर भाग गए।

मध्यप्रदेश के ही खंडवा में नाबालिग लड़की से दुष्कर्म कर उसे जंगल में छोड़ने का मामला सामने आया है। खालवा इलाके में रहने वाली लड़की की मेले में 19 साल के राजकुमार कोरकू से मुलाकात हुई। वह उसे झांसा देकर अपने साथ खेत में ले गया। यहां 11 दिनों तक राजकुमार ने किशोरी को अपने साथ रखा और दुष्कर्म रहा। इसके बाद वह लड़की को पुनासा के जंगल में छोड़कर भाग गया। राजकुमार को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया है। राजस्थान के सीकर जिले में 15 साल की लड़की के साथ 9 महीने तक दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। इस मामले में आरोपियों के हौसले इतने बुलंद हो गए कि पुलिस में शिकायत करने के बाद वो पीड़ित की मां और भाभी को समझौता करने के लिए घर से उठाकर ले गए। पीड़ित ने बताया कि आरोपी भींवाराम एक बार पिता से मिलने आया था। उसने धोखे से पिता को नींद की गोलियां खिला दीं और कमरे में घुसकर रेप किया। वीडियो भी बनाया। 9 महीने तक ब्लैकमेल कर दुष्कर्म करता रहा। उसने अपने एक दोस्त को भी यह वीडियो दे दिया था।

राजस्थान के जयपुर के आमेर क्षेत्र में तीन मजदूरों ने स्कूल जा रही नाबालिग को अगवा कर गैंगरेप किया। एसीपी सौरभ तिवाड़ी के मुताबिक, 8वीं में पढ़ने वाली बच्ची बुधवार दोपहर स्कूल जा रही थी। जीतू और विक्रम नाम के दो युवक बाइक पर आए और उसे बैठाकर किराए के कमरे पर ले गए। यहां कालू नाम का एक युवक पहले से मौजूद था। तीनों ने बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी। तीनों को गिरफ्तार कर लिया है। राजस्थान के अजमेर में दलित महिला के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है। आरोपियों ने महिला को 8 घंटे तक बंधक बनाकर रखा। पीड़ित ने पुलिस को बताया कि वह अपने मायके दौराई गई थी, वहां उसे टीपू सुल्तान मिला। वह फुसलाकर खेत में ले गया। यहां टीपू के दो साथी पहले से मौजूद थे। तीनों ने मिलकर उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। 8 घंटे तक रेप करने के बाद तीनों आरोपी उसे घर के पास छोड़कर चले गए। किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी।

बिहार के लखीसराय जिले में नौवीं कक्षा के छात्र ने अपनी बहन की सहेली को धोखे से घर बुलाकर उसका रेप किया। इस घटना से छात्रा इतनी दुखी हो गई की उसने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पीड़ित नाबालिग थी। आरोपी भी नाबालिग है और उसके पिता सीआरपीएफ में हैं। आरोपी फरार है। झारखंड के रांची में 60 साल के मकान मालिक ने किराएदार की 4 साल की बच्ची से दुष्कर्म किया है। बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसकी हालत स्थिर है। बच्ची के माता-पिता अंडे बेचने का काम करते हैं। बुधवार को दोनों बाहर गए हुए थे, इस दौरान ही आरोपी ने घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने आरोपी दीनानाथ शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *