Share this


  • हिंदी समाचार
  • सुखी जीवन
  • दुर्लभ आधा पुरुष, आधा महिला पक्षी वन्यजीव जीवविज्ञानी द्वारा खोजा गया यहां पेन्सिलवेनिया से नवीनतम समाचार अपडेट हैं

3 दिन पहले

  • कॉपी लिस्ट
  • पेन्सिलवेनिया के पाउडरिल नेचुरल रिजर्व में 24 सितंबर को मिला था यह पक्षी था
  • पक्षी नर और मादा दोनों होते हैं तो इसे गाएंड्रोमॉरफिज्म कहते हैं- शोधकर्ता

रिसर्च टीम ने ऐसे पक्षी को खोजा है, जो मध्य नर और मध्य मादा है। इसका नाम रोज-ब्रेस्टेड ग्रूजबीक्स है। इसके एक हिस्से में नर चिड़ियों जैसे काले और बड़े पंख हैं, जबकि दूसरे मादा वाले हिस्से में भूरा और यलो पंख हैं। इसके चेस्ट पर नो डिस्प्ले नहीं हैं। यह मादा पक्षी का लक्षण है।

इसे खोजने वाले पेन्सिलवेनिया के पाउडर जीएम नेचुरल रिजर्व के रिसर्चर्स का कहना है, जब पक्षी नर और मादा दोनों होते हैं तो इसे गाएंड्रोमॉरफिज्म कहते हैं।

कब होता है ऐसे पक्षी का जन्म
रिसर्चर्स के मुताबिक, ऐसे पक्षी का जन्म तब होता है, जब नर के दो स्पर्म मादा के ऐसे अंडे से मिलते हैं, जिनमें दो न्यूक्लियस होते हैं। ऐसी स्थिति में भ्रूण में नर और मादा दोनों का क्रोमोजोम आ जाता है। ऐसा चिड़ियों में कम ही होता है। 64 साल पहले अमेरिका के पाउडरमिल एविएशन रिसर्च सेंटर में ऐसा मामला सामने आया था।

रिसर्च टीम में शामिल एनी लिंडसे कहती हैं, यह मेरे जीवन का बेहद अद्भुत अनुभव रहा है। चिड़ियों की जनसंख्या की गणना करने के दौरान ये हमें मिले।

अधिक गहरे और बड़े पंख वाले भाग नर पक्षी की तरह है और दाहिनी तरफ छोटे और हल्के रंग वाले पंख हैं, जो मादा पक्षी होने की खासियत बताते हैं।

अधिक गहरे और बड़े पंख वाले भाग नर पक्षी की तरह है और दाहिनी तरफ छोटे और हल्के रंग वाले पंख हैं, जो मादा पक्षी होने की खासियत बताते हैं।

यह पक्षी मादा की तरह अंडे भी दे सकता है
यह पक्षी उत्तरी अमेरिका में पाया जाता है। अगर यह माइग्रेट करता है तो मेक्सिको और दक्षिणी अमेरिका में भी पहुंच सकता है। यह कार्डिनल फैमिली से है।

वैज्ञानिकों के मुताबिक, आमतौर पर चिड़ियों में दाहिने हिस्से वाली ओवरी ही सक्रिय होती है। इस पक्षी में भी दाहिना हिस्सा ही मादा वाला है। इसलिए यह अंडे भी दे सकता है और प्रजनन भी कर सकता है।

प्रजनन के लिए सबसे जरूरी बात
एनी लिंडसे कहती हैं, भविष्य में नर की तरह काम करेंगे या मादा की तरह, यह इसकी आवाज पर निर्भर करेगा। अगर यह नर पक्षी की तरह गुनगुनाएगी तभी मादा आकर्षित होगी। या यह भी हो सकता है, यह खुद नर चिड़ियों की तरफ आकर्षित हो। ऐसे मामले बेहद दुर्लभ होते हैं, जो कई तरह की नई बदलाव देते हैं।

एनी कहती हैं, यह पक्षी हमें 24 सितंबर की शाम को मिला था। यह आगे चलकर नर की तरह बिहेव करेगा या मादा की तरह यह इसके पंखों और आवाज पर निर्भर करेगा। मुझे लगता है कि इसके पंख नर की तरह अभी और विकसित होने की संभावना है। इसका रंग और ज्यादा वाइब्रेंट होगा। नर और मादा के बीच की रेखा और बहुत गहरी होगी।





Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *