Share this


सोने की चिड़िया कहलाने वाले भारत का करीब तीन सौ साल तक दोहन करने के बाद जब अंग्रेज यहां से गए तो आर्थिक, सामाजिक दुश्वारियां छोड़ गए। हमने वहीं से नई शुरुआत की। देश को दिलोजान से सींचा और संवारा। आज फिर हम शीर्ष शक्तियों में शुमार हैं। यह सफलता धीमे लेकिन मजबूत कदमों के बूते मिली। कामयाबियों की अनंत कहानी है। ऐसे में 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सात दशकों के ऐतिहासिक क्षणों को याद करके गर्वानुभूति होना लाजिमी है।

1948 हॉकी में ओलंपिक गोल्ड

आजादी के अगले वर्ष देश की पुरुष हॉकी टीम ने लंदन ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीता। यह आजाद देश का पहला गोल्ड मेडल था। 1950 लागू हुआ संविधान लागू संविधान ने देश को समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष, लोकतांत्रिक गणराज्य बनाया।
1952 पहले चुनाव

गणराज्य बनने के बाद लोगों के सामने अपनी सरकार चुनने का अवसर था। 1952 में पहले लोकसभा चुनाव हुए। देश के तकरीबन 17 करोड़ लोगों ने इसमें मतदान किया। जवाहर लाल नेहरू देश के प्रथम प्रधानमंत्री चुने गए। अब तक 14 बार केंद्र में सरकारें बदल चुकी हैं।

1954 भाभा परमाणु रिसर्च की स्थापना

मुंबई के उपनगर ट्रॉम्बे में परमाणु ऊर्जा संस्थान की स्थापना की गई। 1967 में इसे भाभा परमाणु रिसर्च सेंटर नाम दिया गया। मौजूदा समय में यहां आठ परमाणु संयत्र काम कर रहे हैं।
1966 रीता बनीं मिस वर्ल्ड

मुंबई की रहने वाली रीता फारिया विश्व सुंदरी का खिताब अपने नाम करने वाली देश की पहली महिला बनीं। इसके बाद 1994 में सुष्मिता सेन ब्रह्मांड सुंदरी और ऐश्वर्या राय ने विश्व सुंदरी का खिताब जीता।
1970 श्वेत क्रांति

इसे दुनिया का सबसे बड़ा डेयरी विकास कार्यक्रम कहा जाता है। इसने हमारे देश को सर्वाधिक दुग्ध उत्पादन करने वाले देश में बदल दिया। अमूल के संस्थापक वर्गीज कुरियन इसके जनक माने जाते हैं।
1974 पहला परमाणु परीक्षण
देश का पहला सफल परमाणु परीक्षण 18 मई, 1974 को राजस्थान के पोखरण में हुआ। इसे Smiling Buddha नाम दिया गया।

1975 आर्यभट्ट का प्रक्षेपण

इसरो ने पहले भारतीय स्वदेशी उपग्रह आर्यभट्ट को अंतरिक्ष में छोड़ा। खगोलविद्ध आर्यभट्ट के नाम पर इसका नाम रखा गया। लागत तकरीबन तीन करोड़ रुपये थी। इसके सफल प्रक्षेपण ने भारत को दुनिया के उन देशों के समकक्ष लाकर खड़ा कर दिया, जिनके पास अपना उपग्रह था।
2005 सूचना का अधिकार

देश के नागरिकों को सशक्त बनाने के लिए सूचना का अधिकार अधिनियम लागू किया गया। यह नागरिकों को सरकार से सवाल पूछने का अधिकार देता है और सुनिश्चित करता है कि सरकार उन सवालों के जवाब दे।
2008 चंद्रयान

अक्टूबर में इसरो ने चंद्रमा पर मानवरहित यान भेजा। इसी से नासा को चंद्रमा पर पानी की मौजूदगी का पता चला।
2013 मंगलयान

पहले ही प्रयास में मंगल पर कदम रखने वाला चौथा देश बना। महज 450 करोड़ की लागत अन्य देशों के मंगल अभियानों से कई गुना कम रही। भारत की इस उपलब्धि को दुनिया की सलामी मिली।

2014 पोलियो से मुक्ति

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारत को पोलियो मुक्त घोषित किया।
2017 उपग्रहों का प्रक्षेपण

फरवरी में इसरो ने एक साथ 104 उपग्रहों को अंतरिक्ष में भेजने का रिकॉर्ड बनाया। रूसी एजेंसी का एक बार में 37 उपग्रह भेजने का रिकॉर्ड इसरो ने ध्वस्त किया।

2019 उपलब्धियों का साल

सुप्रीम कोर्ट द्वारा तीन तलाक को अवैध ठहराने के बाद साल 2019 में केंद्र सरकार ने इसे लेकर कानून बनाया। जिसके बाद तीन बार तलाक बोलकर निकाह को खत्म करने वालों के खिलाफ सजा का प्रावधान किया गया। वहीं नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) बनाकर पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आए हिंदू , सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई धर्मों के प्रवासियों के लिए नागरिकता नियमों को आसान बनाया गया। पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ एक बार फिर सर्जिकल स्ट्राइक की। इस दौरान भारतीय लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तान में मौजूद आतंकी कैंपों को ध्वस्त किया।
2020 मर्यादा पुरुषोत्तम का मंदिर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अगस्त को अयोध्या में भव्य राम मंदिर की आधारशिला रखी। सालों से लंबित राम मंदिर के मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला राम मंदिर के पक्ष में आया था।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *