Share this


PATNA : बिहार विधानसभा चुनाव से रालोसपा को लगातार झटके पर झटका लग रहा है. पार्टी के नेता लगातार उपेंद्र कुशवाहा का साथ छोड़ रहे हैं. रालोसपा की प्रदेश महासचिव सीमा कुशवाहा ने उपेंद्र कुशवाहा पर कई आरोप लगाते हुए पार्टी को अलविदा कह दिया है. और अब उपेंद्र कुशवाहा के खिलाफ सीमा कुशवाहा बड़ी प्लानिंग कर रही हैं. सीमा कुशवाहा ने प्रण लिया है कि जिस तरह रालोसपा में उनका टिकट काटा गया. वो इसका बदला लेंगी. सीमा कुशवाहा ने फोन पर बताया है कि बीते 2 अक्टूबर को उपेंद्र कुशवाहा दिल्ली से पटना आए थे. तब से लगातार रालोसपा कार्यालय से लेकर उपेंद्र कुशवाहा के आवास का चक्कर लगा रही थी. ये लगभव तय था कि मुझे टिकट सासाराम के करगहर विधानसभा क्षेत्र से टिकट मिलेगा. लेकिन आखिरी वक्त में बताया गया कि ये सीट बसपा को दे दी गई है.

हम बसपा के टिकट पर भी चुनाव लड़ने को तैयार थे. लेकिन मेरा टिकट फाइनल नहीं किया गया. जबकि शुरू से रालोसपा के लिए जमीनी स्तर पर मैंने काम किया है. उपेंद्र कुशवाहा के हर आंदोलन में उनके साथ रहे. फिर मेरे जैसे कार्यकर्ताओं का टिकट काट दिया गया है. रालोसपा में पैसे लेकर टिकट दिया जा रहा है. अब मैंने ये फैसला लिया है कि अगर उपेंद्र कुशवाहा की पत्नी बिहार विधानसभा चुनाव लड़ती है तो हम उनके खिलाफ लड़ेंगे. अगर नहीं तो हम जब भी और जहां से भी उपेंद्र कुशवाहा आगे लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे. तो उनके खिलाफ चुनाव में उतरेंगे. आगे सीमा कुशवाहा ने बताया है कि पप्पू यादव ने उन्हें फोन भी किया था. फोन पर पप्पू यादव ने कहा था कि आप जन अधिकार पार्टी ज्वॉइन कर लीजिए. आपको करगहर विधानसभा क्षेत्र से टिकट मिल जाएगा. लेकिन मैं अब चुनाव उपेंद्र कुशवाहा के खिलाफ ही लड़ूंगी.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *