Share this


  • हिंदी समाचार
  • अंतरराष्ट्रीय
  • पाकिस्तान के 20 सैनिक मारे गए | पाकिस्तान सेना के काफिले ने उत्तरी वजीरिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा में 20 सैनिकों को मार डाला, इमरान खान ने इसकी निंदा की।

इस्लामाबाद21 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

फोटो गुरुवार शाम की है। पाकिस्तान के उत्थ वजीरिस्तान में सेना के काफिले पर हमला हुआ। इसमें 6 सैनिक मारे गए। हमले के दौरान सैनिकों की गाड़ी जल गई।

  • पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक ये हमला नॉर्थ वजीरिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा में हुआ है
  • गोस्मर पोर्ट के करीब हुए हमले से पाकिस्तान सरकार की फिक्र बढ़ गई है, यहां चीन और पाक मिलकर पोर्ट बना रहे हैं

पाकिस्तान में गुरुवार शाम फौज के दो काफिलों को निशाना बनाया गया। इन 20 सैनिकों के मारे जाने की खबर है। पहला हमला उत्थ वजीरिस्तान जबकि दूसरा खैबर पख्तूनख्वा इलाके में हुआ। मारे गए सैनिकों की संख्या बढ़ने की आशंका है। क्योंकि, ज्यादातर सैनिकों की हालत गंभीर बताई गई है।

पांच महीने में पाकिस्तानी सैनिकों के काफिले पर यह चौथा हमला है। कुल मिलाकर इनमें से 50 से ज्यादा सैनिक मारे गए हैं। Goismer का हमला तो सरकार और सैनिकों के लिए चिंता का बड़ा कारण है। यहाँ पाकिस्तान और चीन मिलकर पोर्ट बना रहे हैं। यह इलाका बलूचिस्तान और नॉर्थ वजीरिस्तान की सीमा पर है।

फौज ने बयान जारी किया
‘द ट्रिब्यून की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तानी फौज की मीडिया विंग (डीजी आईएसपीआर) ने सिर्फ नॉर्थ वजीरिस्तान में हुए हमले की जानकारी दी है। इसके मुताबिक, यहां हुए हमले में एक अफसर समेत 6 सैनिक मारे गए। हमला राजम गांव में हुआ। तब सैनिकों की गाड़ियों का काफिला पेट्रोलिंग के बाद कैंप लौट रहा था।

दूसरे हमले की जानकारी नहीं दी
पाकिस्तानी फौज के मीडिया विंग ने शुक्रवार सुबह तक खैबर में दूसरे हमले की जानकारी नहीं दी। जबकि यह हमला ज्यादा घातक था और इसमें 14 सैनिकों के मारे जाने की खबर है। इसमें कोण्डर लेवल के अफसर भी शामिल बताए गए हैं। बताया जाता है कि सैनिकों की एक गाड़ी ओरमारा में मौजूद गैस और अयल प्लांट से लौट रही थी। केवल इसे आईड्स के जरिए उड़ा दिया गया। बताया जाता है कि इस दौरान सैनिकों और अध्यायों के बीच काफी देर तक गोलीबारी भी हुई। सैनिक खुली जगह पर थे, जबकि साथी ओट में थे।

इमरान ने रिपोर्ट मांगी
घटना की जानकारी मिलने के बाद प्रधानमंत्री इमरान खान ने आर्मी चीफ जनरल बाजवा से फोन पर बातचीत की। संबंधों घटना का ब्योरा लिया। सैनिकों की दो कंपनियों के मौके पर रवाना की गई हैं। बलूचिस्तान में पाकिस्तानी फौज पर पिछले महीनों में कई हमले हुए हैं। लेकिन, खैबर और वजीरिस्तान में इस तरह के हमले नई बात हैं।





Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *