Share this


  • हिंदी समाचार
  • अंतरराष्ट्रीय
  • हजारों उपयोगकर्ताओं के ट्विटर हैंडल को अचानक निलंबित कर दिया गया, दो घंटे बाद सेवाओं को फिर से शुरू किया गया; कंपनी ने कहा कि समस्या आंतरिक समस्या के कारण थी, अब सब कुछ ठीक है

वॉशिंगटन6 घंटे पहले

  • कॉपी लिस्ट
  • सोशल मैसेजिंग साइट ट्विटर पर गुरुवार की रात लोग अपने पोस्ट और अकाउंट अपडेट नहीं देख पा रहे थे
  • इससे पहले भी दो बार ऐसी दिक्कतें आ चुकी हैं, पिछले साल जुलाई और फरवरी में भी ऐसा हुआ था

सोशल बुकिंग साइट इन्टरनेट को गुरुवार तकनीकी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। लोग अपने पोस्ट और अकाउंट पर हुए अपडेट नहीं देख पा रहे थे। कई लोगों ने प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल नहीं करने की शिकायत की। लगभग कुछ घंटे तक ऐसी स्थिति बनी रही। इसके बाद कंपनी ने अपनी सेवाएं री स्टोर कर दी दी।

लोगों की शिकायतें मिलने पर कंपनी ने ट्वीट किया- आप लोगों में से बहुत सारे लोगों के लिए GPS डाउन है। हम इसके पुन: बैकअप और सभी के लिए चालू करने की कोशिश कर रहे हैं। हमारी इंटरनल प्रणाली में कुछ समस्याएं हैं। सुरक्षा में सेंध या हिलिंग के कोई सबूत हमें नहीं मिले हैं।

समय से पहले हुए परिवर्तनों की वजह से समस्या आई

इंटरनेट ने तकनीकी खराबियों को दूर करने के बाद ट्वीट किया- आप में से ज्यादा लोगों ने दोबारा ट्वीट करना शुरू कर दिया है होगा। हमारे सिस्टम में प्लान से पहले एक बदलाव की वजह से यह समस्या हुई, जिससे हमारे ज्यादातर सर्वर पर असर पड़ा। हम रेडियो को नॉर्मल करने के लिए काफी मेहनत कर रहे हैं। उम्मीद है कि सभी चीजें एक से दो घंटे में पूरी तरह से सुलझ जाएगी। हम आपकी धैर्य की सराहना करते हैं।

बीते दो साल में तीन गुना डाउन हो गया है
इंटरनेट बीते एक साल में तीन बार डाउन हो चुका है। पिछली बार जुलाई 2019 में एक घंटे तक यूजर्स इसी तरह से ट्वीट नहीं कर पाए थे। फरवरी 2019 में भी ऐसा हो गया है। इंटरनेट हैकिंग का भी शिकार हो चुका है। इस साल जुलाई में कई नामी हस्तियों के ट्विटर अकाउंट किराये के लिए गए थे। जिनके एंड्रॉइड अकाउंट्स किराए पर लिए गए थे, उनमें से के को-एक्टिवर बिल गेट्स, अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस, टेस्ला के सीईओ जेन मस्क और अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा शामिल थे। हैकर्स ने इन खातों से ट्वीट कर क्रिप्टोकरंसी फ्रॉड को अंजाम दिया था।





Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *