Share this


काबुल5 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

गुल की हेडवर्क्स पहने हुए और हाथ में एक मशीनगन पकड़ी एक तस्वीर पिछले कुछ दिनों में खूब वायरल हुई है।

  • सरकार का समर्थन करने के कारण तालिबानी आतंकवादियों ने लड़की के माता-पिता की हत्या की
  • तालिबानी आतंकी हमेशा से सरकार या सुरक्षाबलों के लिए मुखबिरी करने के संदेह में ग्रामीणों को मारते हैं

अफगानिस्तान की एक लड़की ने अपने माता-पिता के मारे जाने के बाद समन्वयिबान के दो आतंकवादियों की गोली मारकर हत्या कर दी। लड़की के माता-पिता सरकार के समर्थक थे। इस कारण कुछ तालिबानी आतंकी उनके घर में घूसकर उन्हें बाहर घसीटकर लाए और उनकी हत्या कर दी गई। एक स्थानीय पुलिस ने न्यूज एजेंसी एएफपी को सोमवार को ये जानकारी दी।

स्थानीय पुलिस प्रमुख हबीबुरहमान मा सिकंदरादा ने बताया कि यह घटना पिछले सप्ताह घोर प्रांत में हुई थी। तालिबानी आतंकवादियों ने प्रांत के एक गांव में कमर गुल के घर पर धवा बोल दिया था। आतंकी उसके पिता को ढूंढ रहे थे, जो गांव के प्रधान थे।

मा सिकंदरादा ने बताया कि जब कमर गुल की मां ने उनका विरोध किया था, तो उन्होंने घर के बाहर घसीक उसके माता-पिता को मार डाला था। कमर गुल, जो घर के अंदर था, उसने एके -47 से दो तालिबानी आतंकियों की गोली मारकर हत्या कर दी। साथ ही कुछ को घायल भी कर दिया।

आतंकवादियों ने बाद में भी हमला किया

कुछ अधिकारियों का कहना है कि गुल की उम्र 14 से 16 साल के बीच है। अफगानी के लिए उसकी सही उम्र का पता नहीं होना आम बात है। बाद में कई अन्य तालिबानी आतंकी उसके घर पर हमला करने आए, लेकिन कुछ ग्रामीणों और सरकार समर्थक मिलिशिया ने उन्हें खड़गड़ दिया।

प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता मोहम्मद आरेफ अबर ने कहा कि अफगान सुरक्षाबलों ने गुल और उसके छोटे भाई को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया दिया है।

सोशल मीडिया पर बधाई

इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने गुल की खूब तारिफ की और उसे हूर बना दिया। गुल की हेडवर्क्स पहने हुए और हाथ में मशीनगन पकड़ी एक तस्वीर पिछले कुछ दिनों में खूब वायरल हुई है।

एक फेसबुक यूजर नजीबा रहमी ने लिखा- उसके साहस को सलाम! शाबाश। एक दूसरे यूजर ने लिखा- पावर ऑफ ए अफगान गर्ल।

शांति हस्तक्षेप के लिए सहमति के बाद भी हमला करते हैं

तालिबानी आतंकी हमेशा से सरकार या सुरक्षा बलों के लिए मुखबिरी करने के संदेह में गांव वालों को मारते हैं। हाल ही में सरकार के साथ शांति वार्ता के लिए सहमति होने के बावजूद आतंकी सुरक्षा बलों पर हमला कर रहे हैं।

0



Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *