Share this


ब्रासीलिया10 घंटे पहले

  • कॉपी लिस्ट

जिम के अमेजन राज्य में जंगल में आग लगी। जंगल को साफ करने के लिए स्थानीय किसान भी आग लगाते हैं।

  • अमेजन जंगल में आग की घटनाओं में एक साल में 28% बढ़ी
  • ब्राजील में अमेजन के जंगलों में जुलाई में 1057 आग की घटनाएं हुईं, 3069 वर्ग किमी जंगल खाक

जिम के राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो के एक बयान से विवाद खड़ा हो गया है। राष्ट्रपति दावा करते हैं कि अमेजन के जंगल में आग लगने से कोई नुकसान नहीं हुआ है। दूसरी तरफ, उनकी ही सरकार का विभाग कहता है कि अमेजन फॉरेस्ट में आग लगने की घटनाएं बढ़ रही हैं। विभाग ने इसके आंकड़े भी जारी किए थे।

जिम के राष्ट्रपति ने यह बात दुनिया के सबसे बड़े रेन फॉरेस्ट की सीमा साझा करने वाले देशों के वीडियो कॉन्फ्रेंस में कही। उन्होंने कहा- रेन फॉरेस्ट (ट्रॉपिकल रेन फॉरेस्ट) आग नहीं पकड़ते। इसलिए यह कहना है कि अमेजन के जंगल जल रहे हैं, सफेद झूठ है।

फोटो स्टूडियो के अमेजन स्टेट की है। फायर ब्रिगेड का एक स्टाफर आग में जान गंवाने वाले एक जानवर को हाथों में लिया हुआ है।

उधर, बार्सिलोना की नेशनल स्पेस एजेंसी (आईएनपीपी) के इलेक्ट्रॉनिक्स डेटा के मुताबिक, जेस के अमेजन जंगल में आग की घटनाओं को पिछले साल जुलाई से लेकर इस साल जुलाई तक यानी एक साल में 28% बढ़ी हैं। पिछले महीने तक 6,803 घटनाएं हुई थीं। केवल जुलाई में ही 1057 घटनाएं हुईं। 3069 वर्ग किमी जंगल नष्ट हो गया है।

अमेजन की आग को लेकर आंतरिक स्तर पर बोल्सोनारो की काफी निंदा हुई थी।

अमेजन के जंगल में आग लगाने और बढ़ती वनों की कटाई को लेकर आंतरिक स्तर पर बोल्सोनारो की काफी निंदा हुई। एक्सपर्ट्स का कहना है कि आमतौर पर जंगल में आग स्वाभाविक रूप से नहीं लगती है। जंगलों में आग लगने की सबसे ज्यादा घटनाएं खेती और पशुपालन के उद्देश्य से होती हैं।

जंगलों में आग लगने की सबसे अधिक घटनाएं लोगों के द्वारा खेती और पशुपालन के उद्देश्य से होती हैं।

पिछले साल मई से अक्टूबर आग से काफी नुकसान पहुंचा था

पिछले साल जंगल में शुरू भीषण आग ने मई से अक्टूबर तक अमेजन को काफी नुकसान पहुंचाया। इसका असर हजारों किलोमीटर दूर साओटोलो तक हुआ। यूरोपियन यूनियन अर्थ ऑब्जर्वेशन प्रोग्राम के इलेक्ट्रॉनिक्स से ली गई फोटो में अमेजन, रोंडोनिया और अन्य राज्यों के जंगलों से आग की लपटें उठती दिखीं थीं। आग से बड़ी संख्या में वन्यजीवों की मौतें भी हुईं। साओटो और अन्य शहरों के ऊपर काले धुआँ नजर आए थे। विमानों की उड़ानें प्रभावित हुईं।

इस साल के सूखा होने के कारण पिछले साल की तुलना में आग की घटनाओं में ज्यादा हो रही हैं।

वन क्षेत्र दुनिया का कुल 20% ऑक्सीजन पैदा करता है

जेन का यह वन क्षेत्र दुनिया की कुल 20% ऑक्सीजन पैदा करता है। यह कुल 10% जैव-विविधता वाला क्षेत्र है। इस क्षेत्र को पृथ्वी के फेफड़े में भी कहा जाता है। यह जलवायु को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, अगर यह वन क्षेत्र खत्म होता है तो इसकी दुनिया पर बेहद बुरा असर पड़ेगा।

ये भी पढ़ें

धपर रहे तीन देशों के जंगल: रूस में शहरों तक पहुंची आग, तीन लाख लोग Inf, 99 हजार एकड़ जंगल में 197 जगह आग 800 गली

0



Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *