Share this


  • हिंदी समाचार
  • अंतरराष्ट्रीय
  • चीन कोरोनावायरस न्यूज़ अपडेट; डॉक्टर ने कहा कि वुहान के अधिकारी COVID संक्रामक रोग के बारे में जानकारी छिपाते हैं

बीजिंग8 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट
  • चीनी प्रोफेसर क्वॉक-युंग येन ने कहा- वुहान से सबूत जुटाने से पहले ही बाजार को पूरी तरह से साफ कर दिया गया
  • चीन पर समय रहते कोरोनावायरस की जानकारी न देने के आरोप लगते रहे हैं, हालांकि चीन इसे नकारता रहा है

पूरी दुनिया में फैल चुके कोरोनावायरस को लेकर चीनी प्रोफेसर ने चीन को लेकर खुलासा किया है। चीनी प्रोफेसर ने दावा किया है कि कोरोना महामारी को लेकर चीनी प्रशासन ने महत्वपूर्ण बदलाव छिपाए हैं। यहीं नहीं जांचकर्ताओं के वुहान की मार्केट पहुंचने से पहले ही सभी सबूत मिटा दिए गए।

चीन पर आरोप लगते रहे हैं कि उसने समय रहते वायरस के बदलाव को किसी को नहीं बताया। इससे ये महामारी पूरी दुनिया में फैल गई। हालांकि, चीन इन आरोपों का खंडन करता आया है।

लेखकों के मामलों को छिपाया गया
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, प्रोफेसर क्वॉक-युंग येन ने बताया कि उन्हें लगता है कि वुहान प्रशासन की तरफ से कोरोना के पत्रों के मामले को छिपाने के लिए हरसंभव प्रयास किए गए। चीनी प्रोफेसर उन लोगों में से एक हैं, जिन्होंने सबसे पहले दावा किया था कि वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकता है।

कोरोना के वुहान मार्केट से फैलने के बारे में उन्होंने बताया कि जब वह वायरस के सबूत बढ़ाने वुहान के सीफूड मार्केट पहुंचे। उससे पहले ही लोकल प्रशासन ने उस जगह को पूरी तरह साफ कर दिया था। आप कह सकते हैं कि क्राइम सीन को पहले ही संशोधित किया जा चुका था। क्योंकि सीफूड मार्केट को पूरी तरह साफ कर दिया गया था, क्योंकि हमने यह पता नहीं लगाया था कि किस जानवर से यह वायरस आम आदमी तक पहुंच सकता है।

हमसे पहले से ही प्रशासन पर शक हो गया था: प्रो
प्रोफेसर ने एक इंटरव्यू में बताया कि इलाके में बढ़ते मामलों को लेकर वुहान की धीमी कार्रवाई से हमें शक हुआ कि मामला को दबाने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि स्थानीय अधिकारी जिन्हें तत्काल मामले को गंभीरता से लेना चाहिए था, उन्होंने इसमें लापरवाही बरती।

ये भी पढ़े जा सकते हैं …

1। कोरोना के पहले मामले पर डब्ल्यूएचओ का यू-टर्न, महामारी के पहले मामले की जानकारी चीन ने नहीं, बल्कि चीन में हमारे कार्यालय ने दी थी: विश्व स्वास्थ्य संगठन

2। कोरोनावायरस की दूसरी लहर, दुनिया के दो बड़े देश पुनः संकट में: चीन में 5 लाख लोगों पर वुहान सी सख्ती; अमेरिका में कुछ हफ्तों की खोज ही फेल है

0



Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *