Share this


  • हिंदी समाचार
  • अंतरराष्ट्रीय
  • कोरोनावायरस चीन इटली | कोरोनावायरस का प्रकोप चीन इटली ईरान यूएसए जापान फ्रांस आज लाइव समाचार अपडेट दुनिया के मामलों उपन्यास कोरोना COVID 19 की मौत टोल

वॉशिंगटनएक घंटा पहले

  • कॉपी लिस्ट

बीजिंग में महामारी के बीच संकाय पहनकर खरीदारी के लिए निकलीं लड़कियां। देश में अब तक 83 हजार से ज्यादा मामलों की पुष्टि हो चुकी है।

  • सीखने में अब तक 5.92 लाख लोगों की जान गई, 82.76 लाख ठीक हुए
  • अमेरिका में सबसे ज्यादा 36.34 लाख मरीज, 1 लाख 40 हजार 367 मौतें हुईं

दुनिया में कोरोनावायरस से अब तक 1 करोड़ 39 लाख 81 हजार 418 लोग बीमार हो चुके हैं। ये 83 लाख 7 हजार 516 ठीक हो चुके हैं। वहीं, 5 लाख 93 हजार 465 की जान चली गई है। चीन के शिंज और प्रांत में कोरोना का नया मामला मिला है। राजकरण उरुमकी में गुरुवार को 24 साल की एक महिला पॉजिटिव मिली। इसके बाद लगभग 600 से ज्यादा फ्लाइट्स को कैंसिल कर दिया गया। चीन में वर्तमान समय की संख्या 83,622 है, जबकि 4,634 लोगों की मौत हो चुकी है। उधर, अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा प्रभावित जेन में मरने वालों की संख्या 76,846 हो गई है। यहां 20 लाख से ज्यादा लोग हैं।

10 देश जहां कोरोना का असर सबसे ज्यादा है

देश

र्ाणें संक्रमित बहुत मौत हो गई कितना ठीक है?
अमेरिका 36,96,141 1,41,130 16,80,424
ब्राजील 20,14,738 76,822 13,66,775
भारत 10,09,406 25,664 6,37,650
रूस 7,59,203 12,123 5,39,373
पेरू 3,41,586 12,615 2,30,994
द.अफ्रीका 3,24,221 4,669

1,65,591

मैक्सिको 324,041 37,574 2,03,464
चिली 3,23,698 7290 2,95,301
स्पेन 3,05,935 28,416 उपलब्ध नहीं है
ब्रिटेन 2,92,552 45,119 उपलब्ध नहीं है

ऑस्ट्रेलिया: नए टेस्ट की खोज हुई

ऑस्ट्रेलिया की मोनाश यूनिवर्सिटी ने एक नए टेस्ट की खोज करने का दावा किया है। इसमें खून के संक्रमण की मदद से 20 मिनट में पता चलेगा कि संक्रमण है या नहीं। इससे शरीर में पहले हुए संक्रमण के बारे में भी जानकारी मिल सकेगी। इसे मोनाश यूनिवर्सिटी के रिसचर्स ने बायोरिसोर्स प्रोसेसिंग इंस्टीट्यूट ऑफ ऑस्ट्रेलिया (बायोप्रिया) और एण्डसी सेंटर ऑफ एक्सेलेंस इन कॉन्वर्जेंट बायोनैनो साइंस एंड टेक्नोलॉजीज (सीबीईटी) के साथ मिलकर ईजाद किया है। रिसचर्स ने इस नए टेस्ट का पेटेंट भी फाइल कर दिया है। इस टेस्ट की मदद से बहुत कम समय में ज्यादा लोगों की जांच की जा सकती है।

ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न स्थित फ्लाइंडर्स स्ट्रीट स्टेशन से बाहर निकलते यात्री। यहां सिर्फ जरूरी कामों के लिए ही लोग घर से निकल सकते हैं।

मेक्सिको: भारतीय दवा कंपनी को क्लीनिकल ट्रायल की मंजूरी
भारतीय दवा कंपनी जायडस फार्मा को मेक्सिको में क्लीनिकल ट्रायल की मंजूरी मिल गई है। अब कंपनी यहाँ कोरोना रोगियों पर अपनी दवा इंटेरफेरोन अल्फा -2 बी की स्टडी कर सकेगी। यहां के एवंत सैंट रिसर्च सेंटर के साथ मिलकर जायडस फार्मा इस दवा का ट्रायल कर रहा है। इस दौरान यह पता लगाया जाएगा कि यह दवा कोराना रोगियों के लिए सुरक्षित है या नहीं।

स्पेन: लगभग 1 लाख ऊदबिलाव को मारने का आदेश

स्पेन में सरकार ने एक लाख ऊदबिलाव (मिंक) को मारने का आदेश दिया है। देश में उत्तर-पूर्वी क्षेत्र आरागॉन के एक फार्म में 87% कोरोना पॉजिटिव मिले, जिसके बाद 92,700 ऊदबिलाव को मारने का आदेश दिया गया। मई में फार्म के एक स्टाफ की पत्नी को मिली थी। उसके बाद यह ममला सामने आया।

स्पेन में स्थित एक फार्म में 92,700 ऊदबिलाव को मारने का आदेश दिया गया है। (फाइल फोटो)

अमेरिका: एक दिन में संक्रमण के 77 हजार मामले

अमेरिका में गुरुवार को यहां 77 हजार 255 नए मामले सामने आए हैं। महामारी फैलने के बाद से यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। एक सप्ताह पहले यहां मिल रहे संभावितों की तुलना में यह संख्या तीन गुना ज्यादा है। इससे पहले यहां 10 जुलाई को 68 हजार मामले सामने आए थे। यहां सबसे ज्यादा न्यूयॉर्क है, जहां 4 लाख 31 हजार 380 किस्म मिले हैं। बढ़ते मामलों को देखते हुए कई राज्यों ने पाबंदियों में दी गई राहत वापस ले ली है। टेस्टिंग बढ़ा दी गई है और लोगों से चेहरे पहनने की अपील की जा रही है।

अमेरिका के सैकरंत्रो में स्थित नेशनल गार्ड टेस्टिंग सेंटर पर एक महिला की जांच करती स्वास्थ्यकर्मी। देश में नए मामले बढ़ने के बाद टेस्टिंग बढ़ाने दी गई है।

जापान: तुरिज्म कैंपेन शुरू

जापान ने संक्रमण के बीच तुरिज्म को बढ़ावा देने के लिए कैंपेन शुरू किया है। इसके बारे में प्रधानमंत्री शिंजो आबे की आलोचना हो रही है। विपक्षी भागों का कहना है कि इससे देश में संक्रमण और तेजी से फैलेगा। इस कैंपेन के तहत देश के कई टूरिस्ट प्लेस पर जाने वाले लोगों को साफ दी जाएगी।

ब्रिटेन: स्वास्थ्य सेवा के लिए 27 हजार करोड़ का फंड

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन स्वास्थ्य सेवाओं के लिए शुक्रवार को 3.7 बिलियन डॉलर (लगभग 27 हजार करोड़ रु।) के फंड की घोषणा करेंगे। राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) प्राथमिक अस्पतालों की सुविधाएं बढ़ाने और इमर्जेंसी फील्ड अस्पताल बनाने पर यह राशि खर्च कर सकती है। यह नए मामलों से सामना करने में भी मददगार होगा।

ब्रिटेन की राजधानी लंदन में गुरुवार को एक बंद रेस्तरां के सामने से गुजरते बुजुर्ग। देश में महामारी से अब तक 40 हजार से ज्यादा मौतें हुई हैं।

रूस: 6404 नए रोगी मिले

रूस में 24 घंटे में 6406 नए मामले मिले हैं। देश में अब संभावितों की संख्या 7.59 लाख हो गई है। यहां 25 जून के बाद से ही हर दिन संक्रमण के मामले सात हजार से कम मिल रहे हैं। वहीं, मरने वालों की संख्या 12 हजार से ज्यादा हो गई है।

स्पेन: कैटालानिया क्षेत्र में फिर से लॉकडाउन
स्पेन ने कैटालोनिया क्षेत्र में फिर से लॉकडाउन लगा दिया है। देश में एक सप्ताह पहले ही लॉकडाउन रखा गया था। इसके बाद इस क्षेत्र में मामले बढ़ने लगे। यहां संक्रमण के कई नए कलस्टर सामने आए हैं। लॉकडाउन लगाए जाने से यहाँ रहने वाले लगभग 1.60 लाख लोगों पर असर पड़ेगा। स्पेन में महामारी से अब तक 28 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है।

स्पेन के बार्सिलोना में गुरुवार को एक बीच के पास बिना मास्क पहने निकले व्यक्ति को जुर्माने की पर्ची थमाता पुलिसकर्मी।

जिम: हानिकारकनों का आंकड़ा 20 लाख के पार

जिम में हानिकारकों का आंकड़ा 20 लाख के पार हो गया है। यहां 27 दिन में ही मामले डबल हो गए हैं। पिछले सप्ताह से यहां हर दिन लगभग 40 हजार नए मामले सामने आ रहे हैं। यहां साओटोलो राज्य में सबसे अधिक 1 लाख 34 हजार 573 संदिग्ध मिले हैं।

माइकल के रियो डे जेनेरियो शहर के पास एक कब्रिस्तान में गुरुवार को ताबूत दफनाने ले जाते कर्मचारी। जिम में पिछले 27 दिनों में मामले 10 लाख से बढ़कर 20 लाख हो गए हैं।

इजराइल: नई पाबंदियां लागू

इजराइल सरकार ने शुक्रवार से नई पाबंदियां लागू करने का ऐलान किया है। सरकार ने कहा है कि सप्ताह के अंत में शुक्रवार दोपहर से रविवार सुबह तक लॉकडाउन होगा। इस दौरान मॉल्स, दुकानें, पूल, जू और म्यूजियम बंद रहेंगे। लोग अपने घरों से बाहर निकलेंगे। हालांकि, समारोह लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना आवश्यक होगा।

इजराइल की राजधानी जेरूशलम के एक बाजार में खरीदारी करने निकली एक महिला। यहां शुक्रवार शाम से रविवार सुबह तक दुकानें और मॉल्स बंद रखने का ऐलान किया गया है।

रूस: दूसरे विश्व वार में मारे गए लोगों की याद में मार्च नहीं होगा

रूस ने दूसरे विश्वयुद्ध में मारे गए लोगों की याद में निकाली जाने वाली रैली विरोध कर दी है। रैली में विश्वयुद्ध में मारे गए लोगों के परिजन उनके फोटो के साथ शामिल होते हैं। हर साल इसका आयोजन 9 मई को होता है। महामारी को देखते हुए रैली 26 जुलाई को निकालने का फैसला किया गया था। हालाँकि, संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए इसे भी टाल दिया गया है। अब संक्रमण पूरी तरह से खत्म होने के बाद यह रैली निकाली जाएगी।

रूस की राजधानी मॉस्को में कॉन्स्ट में हुए बदलाव के खिलाफ बुधवार को हुए प्रदर्शन में लोग वर्क लगाकर पहुंचे।

कनाडा: 1.5 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज की घोषणा

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए आर्थिक पैकेज की घोषणा की है। उन्होंने गुरुवार को कहा कि हम 14 बिलियन डॉलर (लगभग 1 लाख 50 हजार करोड़ रु।) के फंड का निवेश करेंगे। इससे देश के राज्यों को लोगों को वायरस से सुरक्षित रखने में मदद मिलेगी। यह लोगों के वापस काम पर लौटने और संक्रमण की दूसरी लहर से सामना में भी मददगार होगा।

0



Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *