Share this


वॉशिंगटन4 घंटे पहले

  • कॉपी लिस्ट

रूस की राजधानी मॉस्को में मास्कर लगाकर स्टूडेंट्स जाते हैं। मॉस्को में शुक्रवार को 12 संभावितों की मौत हो गई। सरकार यहां एक और मेक्शिफ्ट अस्पताल बनाने जा रही है।

  • दुनिया में 8 लाख से ज्यादा मौतें, 1.72 करोड़ लोग ठीक हुए
  • अमेरिका में 60 लाख से ज्यादा संपत्ति, 1.85 लाख मौतें

दुनिया में कोरोनावायरस के अब तक 2 करोड़ 48 लाख 98 हजार 959 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से 1 करोड़ 72 लाख 90 हजार 592 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 8 लाख 40 हजार 661 की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के कहते हैं। फ्रांस में संक्रमण की दूसरी लहर का असर साफ देखा जा रहा है। यहां गुरुवार को सात हजार से ज्यादा मरीज सामने आए। रूस के मॉस्को में मरने वालों का आंकड़ा बढ़ा है। सरकार एक और मेक्शिफ्ट अस्पताल बनाने जा रही है।

मॉस्को: मौतों का आंकड़ा बढ़ा
मॉस्को को छोड़कर रूस के बाकी हिस्सों में काफी हद तक संक्रमण पर काबू पाया जा चुका है। हालांकि, मोस्को में हालात बहुत सुधरते नहीं हैं। मॉस्को में गुरुवार को 12 टनों की मौत हुई। इतना ही नहीं लगभग पांच हजार नए मामले सामने आए। स्वास्थ्य मिनिस्ट्री ने कहा कि मॉस्को के उपनगरीय क्षेत्रों में मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इसको देखते हुए यहां एक और मेक्शिफ्ट अस्पताल तैयार किया जा रहा है। इसकी क्षमता पांच हजार होगी।

UAai: फिर से नया मामला सामने आया
आईपीएल 2020 यूएई में 19 सितंबर से शुरू होना है। लेकिन, इसके पहले देश में संक्रमण के मामले बढ़ने लगे हैं। शुक्रवार को यहां 390 मामले सामने आए। इसके साथ ही मरीजों का आंकड़ा अब 68 हजार 901 हो गया है। सरकार ने शनिवार को एक महत्वपूर्ण बैठक बुलाई है। इसमें हेल्थ डिपार्टमेंट की तमाम आला अफसर शामिल होंगे। सरकारी सूत्रों के मुताबिक, सरकार कुछ क्षेत्रों में लॉकडाउन जैसा सख्त फैसला ले सकती है।

फ्रांस: लॉकडाउन रिमूवर मिला
यूरोपीय देशों में अगर किसी देश में संक्रमण की दूसरी लहर का असर सबसे ज्यादा देखा जा रहा है तो वह फ्रांस है। शुक्रवार को एक बार फिर तेजी से मरीज बढ़े। 7 हजार 379 मामले सामने आए। इसके साथ ही इस सप्ताह मरीजों की संख्या लगभग 22 हजार ज्यादा हो गई है। फ्रांस सरकार ने संक्रमण की रफ्तार रोकने के लिए सख्त कदम उठाने की तरफ इशारा किया है। माना जा रहा है कि जिन क्षेत्रों में रोगी ज्यादा मिल रहे हैं, वहां फिर लॉकडाउन लगाया जा सकता है। हालांकि, चिंता इस बात की है कि नए क्लस्टर ज्यादा दिखाई दे रहे हैं।

फ्रांस में इस सप्ताह 22 हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। शुक्रवार को सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। परिषद में कुछ प्रतिबंध फिर से लगाए जा सकते हैं। (फाइल)

फ्रांस में इस सप्ताह 22 हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। शुक्रवार को सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। परिषद में कुछ प्रतिबंध फिर से लगाए जा सकते हैं। (फाइल)

कनाडा: बैन को बढ़ाना
कनाडा ने दूसरे देशों में जाने वाले और वहां से आने वाल लोगों के लिए नई योजना तैयार की है। इसके तहत यूएस से आने वाले लोगों के प्रतिबंध 30 सितंबर तक बढ़ाए जाएंगे। पहले यह 21 सितंबर तक था सरकार का कहना है कि अगर यह प्रतिबंध हटाए जाते हैं तो देश में संक्रमण के मामले में बहुत तेजी से बढ़ने की आशंका है। यहाँ आज स्वास्थ्य मिनिस्ट्री संक्रमण के नए मामलों की समीक्षा करेगी इसके साथ ही वैक्सीन रिसर्च पर भी बात होगी।

कनाडा में सरकार ने बैन 21 की बजाए 30 सितंबर तक बढ़ा दिया गया है। सरकार का कहना है कि अमेरिका से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग पर अब ज्यादा फोकस किया जाएगा।

कनाडा में सरकार ने बैन 21 की बजाए 30 सितंबर तक बढ़ा दिया गया है। सरकार का कहना है कि अमेरिका से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग पर अब ज्यादा फोकस किया जाएगा।

0



Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *