Share this


सिंगापुर39 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

सिंगापुर के वर्कर्स पार्टी के नेता प्रीतम सिंह।

  • सिंह की पार्टी को 10 जुलाई को हुए चुनाव में 93 संसदीय सीटों में से 10 पर जीत मिली
  • इसके साथ ही उनकी वर्कर्स पार्टी संसद में सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी बन गई

सिंगापुर के भारतवंशी नेता प्रीतम सिंह पहली बार संसद में नेता प्रतिपक्ष बनाए गए। सोमवार को संसद की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ताधारी पीपुल्स एशन पार्टी (पीएपी) की नेता इंद्राणी राजाह ने 43 साल के प्रीतम सिंह को देश के पहले विपक्षी नेता के रूप में मान्यता दी। सिंह की वर्कर्स पार्टी को 10 जुलाई को हुए चुनावों में 93 संसदीय सीटों से 10 पर जीत मिली। इसके साथ ही देश के संसद में उनकी पार्टी सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी बन गई।

इंद्राणी भी भारतीय मूल की हैं। उन्होंने कहा कि विपक्ष में ज्यादा सांसदों का होना देश की राजनीति में विचारों की विविधता को दर्शाता है। जैसा कि प्रधानमंत्री ली हसियान लुंग ने अपने शपथ ग्रहण भाषण में कहा था। समय के साथ यह जरूरी है कि विपक्ष के नेता को मान्यता दी जाए। पहली बार जब आधिकारिक रूप से विपक्ष के नेता को मान्यता दी गई है।

जानकारी के मुताबिक, सिंगापुर के संसद में कभी भी विपक्ष के नेता का आधिकारिक तौर पर पद नहीं रहा है। संविधान या संसद के स्थाई आदेशों में भी पद की व्यवस्था नहीं है।

सिंह के सदन में बोलने का समय बढ़ाया गया

पीएपीपी को चुनाव में पूर्ण बहुमत मिला है। पटेल न्यूज एशिया के अनुसार, सदन ने प्रस्ताव पारित कर सिंह के बोलने के समय को 20 मिनट से बढ़ाकर 40 मिनट कर दिया। बैकबोंड को 20 मिनट तक बोलने का समय दिया गया है। साथ ही अब उनकी सीट प्रधानमंत्री की सीट के सामने होगी।

इंद्राणी ने कहा कि अब नेता प्रतिपक्ष की भूमिका दूसरे देशों के विपक्ष के नेता जैसी ही होगी। चुनाव के बाद प्रधानमंत्री लुंग ने कहा था कि सिंह को 14 वीं संसद में विपक्ष के नेता के रूप में नामित किया जाएगा। साथ ही उन्हें अपने स्लावों को शुद्धाने के लिए स्टाफ और संसाधन दिया जाएगा।

प्रीतम सिंह को सभी सुविधाएं दी जाती हैं

इंद्राणी ने कहा कि सिंह का पार्लियामेंट में कार्यालय होगा। उन्हें स्टाफ के साथ-साथ सभी सुविधाएं भी दी जाएगी। सिंह को संसद में नीतियों और विचारकों और प्रस्तावों पर संसद में होने वाले बहनों में वैकल्पिक विचार पेश करने वाले विपक्ष का नेतृत्व करेंगे। उन्हें 3,85,000 सिंगापुर डॉलर (लगभग 2.07 करोड़ रु।) का पैकेज दिया जाएगा।

नेता प्रतिपक्ष की भूमिका निभाते हैं

विपक्ष के नेता के रूप में सिंह संसद में नेता प्रतिपक्ष की भूमिका निभाते हैं। इसके साथ ही वे स्टेट फंक्शंस में शामिल हो सकते हैं। साथ ही मंत्रियों के साथ यात्रा, सरकार के साथ बैठक में भाग ले सकते हैं।

0



Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *