Share this


7 घंटे पहले

  • कॉपी लिस्ट

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन ने सांसद कमला हैरिस को उप-राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है। इस पद के लिए चुनाव लड़ने वाली वह पहली अश्वेत महिला होगी। हालांकि, उनकी मां गोपाललिंग भारतीय और पिता डोनाल्ड हैरिस फ्रैकन हैं। कमला हैरिस खुद को किसी रंग या देश से जोड़ने की बजाय अमेरिकी कहलाना ज्यादा पसंद करती हैं।

इससे पहले दो बार किसी महिला को उप-राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार बनाया गया था। 2008 में रिपब्लिकन पार्टी ने सारा पैलिन को और 1984 में डेमोक्रेटिक पार्टी ने गिरलदीन फेरारो को उम्मीदवार बनाया था, लेकिन दोनों ही चुनाव हार गए थे। दोनों प्रमुख अमेरिकी पक्षों ने अब तक किसी भी अश्वेत महिला को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार नहीं बनाया है। अब तक अमेरिका में कोई महिला राष्ट्रपति नहीं बन सकी है।

आइए जानते हैं कमला हैरिस के बारे में …

1. पिता स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी में टीचर, मां कैंसर रिसर्चर

  • कमला हैरिस का जन्म 20 अक्टूबर 1964 को ऑकलैंड (माइकल) में हुआ। उनका पूरा नाम कमला देवी हैरिस है। पिता डोनाल्ड हैरिसिनोफोर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ाते हैं। मां और गोपालन भारतीय डिप्लोमेट की बेटी और कैंसर रिसर्चर थी, उनका 2009 में निधन हो गया। कमला की बहन माया हैरिस एक सार्वजनिक नीति एडवोकेट हैं।
  • कमला ने इलेक्ट्रॉनिक्सटन डी.सी. ूल वेस्टमाउंट हाईस्कूल से पढ़ाई की। वह स्टूडेंट काउंसिल में भी गए थे। पॉलिटिकल साइंस और इकोनॉमिक्स में बी.ए. करते समय डिबेट टीम से जुड़ीं। हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से 1986 में ग्रेजुएशन किया। 1989 में हेस्टिंग्स कॉलेज से लॉ डिग्री ली।

2. 2014 में शादी की; दो बच्चों की सौतेली माँ

  • कमला हैरिस की शादी वकील डगलस एमहॉफ से सैंटा बारबरा में 22 अगस्त 2014 को हुई थी। वे दो बच्चों एला और कोल की सौतेली मां हैं। डगलस और कमला एक ब्लाइंड डेट पर मिले थे। इसके बाद डगलस ने अपनी पत्नी को तलाक दिया और कमला से शादी कर ली।
  • इससे पहले की बात करें तो 1994-95 में कमला के रिश्ते नोकिया असेंबली के तत्कालीन स्पीकर और उम्र में 30 साल बड़े विली ब्रान से भी रहे हैं। इस रिश्ते की वजह से विली ब्र अपनी अपनी पत्नी से दूर हो गए थे। वर्ष 2000 में वह लुइस रेने से भी संबंध में रहे।

3. प्रथम भारतवंशी अमेरिकी जो चेस्टर बनीं

  • कमला प्रथम भारतीय अमेरिकी हैं जो 2016 में यू.एस. सीनेटर बनी हुई है। साथ ही वह ऐसी करने वाली दूसरी अफ्रीकी-अमेरिकी महिला भी हैं।
  • 2011 से 2016 तक जोन्स की अटॉर्नी जनरल रहीं। तब भी वह पहली महिला और पहली अफ्रीकी-अमेरिकी थीं, जो अटॉर्नी जनरल बनी थीं।
  • ऑकलैंड में 1990 से 1998 के बीच डिप्टी डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी बने रहे। 2004 में डिस्ट्रिक्ट गवर्नर बनीं और 2010 में अटॉर्नी जनरल।
  • 2008 में संदेह के दौरान प्रेसिडेंट बराक ओबामा के दबाव के बाद भी साहूकारों के खिलाफ मुकदमे किए गए। पांच गुना ज्यादा मुआवजा मिला।
  • हैरिस ने तीन किताबें भी लिखी हैं- स्मार्ट ऑन क्राइम (2009), द ट्रूथ्स वी होल्ड: एन अमेरिकन जर्नी (2019) और सुपरहीरोज आर एव्रीव्हेयर (2019)।

4. पहली बार सांसद बने और अब उप-राष्ट्रपति की दौड़ में

  • कमला हैरिस 2017 में पहली बार ही सांसद बनीं और तीन साल बाद उप-राष्ट्रपति की दौड़ में शामिल हो गईं। इसके लिए उनके वकालत गुणों को श्रेय दिया जाना चाहिए।
  • 2012 में डेमोक्रेटिक नेशनल कन्वेंशन में कमला ने यादगार भाषण दिया था। इससे उन्हें राष्ट्रीय पहचान मिली।]पार्टी में उन्हें रिंग स्टार कहा जाने लगा।
  • इण्डलिजेंस सिलेक्ट कमेटी सदस्य के नाते उनके काम ने उन्हें उप-राष्ट्रपति पद के पास तक पहुंचाया। 2016 के राष्ट्रपति चुनावों में रूसी हस्तक्षेप के दावों पर अटॉर्नी जनरल जेफ से हस्तक्षेप से उनकी शैली ने लोकप्रियता को कई गुना बढ़ा दिया।
  • कमला ने डेमोक्रेटिक पार्टी से प्रेसिडेंट पद के लिए दाव सूची पेश की थी। वह लीडिंग कैंडीडेट भी थे। लेकिन, सितंबर 2019 में उनका कैम्पेन विवादों से घिर गया। दिसंबर में उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया।
  • नाम बदलने के बाद से ही चर्चा थी कि जो बिडेन उन्हें उप-राष्ट्रपति पद के लिए अपना साथी उम्मीदवार चुनेगा। वह पुलिस सुधार की बहुत बड़ी समर्थक हैं।

5. कमला हैरिस की उम्मीदवारी पर कौन-क्या बोला

जो बिदान: कमला हैरिस एक बहादुर आदमी और अमेरिका के सबसे बेहतरीन नौकरशाहों में से एक हैं। मैंने खुद देखा कि कमला ने कैसे बड़े-बड़े बैंकों को चुनौती दी, कामगारों की मदद की और महिलाओं और बच्चों को शोषण से बचा लिया।

डोनाल्ड ट्रम्प: कमला हैरिस का व्यक्ति हैं जिन्होंने इस तरह की कई कहानियाँ सुनी हैं, जो सच नहीं थे। डेमोक्रेटिक पार्टी की प्राइमरी बहसों में कमला बेहद शानदार और डरावनी थीं। बिडेन का हैरिस को चुनने से पता चलता है कि वे एक खोखली योजना को अतिवादी वामपंथी एजेंडे से भर रहे हैं।

बराक ओबामा: कमला हैरिस इस पद के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। उन्होंने अपने पूरे करियर को हमारे कॉस्ट को बचाने के लिए लगाया है और उन लोगों की लड़ाई लड़ी है जिन्हें यहां जायज़ हिस्सा मिलनी चाहिए।

0





Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *