Share this


भोपाल7 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

संघ प्रमुख मोहन भागवत भोपाल में कोर ग्रुप की बैठक के दौरान कोरोना संक्रमण, लॉकडाउन और बदले हुए हालात में संघ की गतिविधियों को बढ़ाने पर चर्चा कर सकते हैं। इस पर रणनीति तय की जाएगी। (फाइल)

  • भागवत सोमवार रात भोपाल आए, 5 दिन रहेंगे, 3 दिन संघ की बैठक करेंगे
  • संघ प्रमुख शिवराज सरकार के मंत्रियों से वन-टू-वन चर्चा कर रहे हैं

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत इन दिनों भोपाल में हैं। वे सोमवार रात यहां पहुंचे थे और पांच दिन रुकेंगे। 3 दिन संघ के कोर ग्रुप यानी प्रमुख विचारकों की बैठक होगी। इसका आज दूसरा दिन है। आमतौर पर संघ की बैठकों का एजेंडा जारी नहीं किया जाता है। बैठक में ही तय होता है कि मीडिया को क्या जानकारी देनी है।

इस बीच, सूत्रों ने बताया कि संघ प्रमुख वर्तमान में, शिवराज सरकार के मंत्रियों से वन-टू-वन बातचीत कर रहे हैं। विशेष बात ये है कि अभी तक सिंधिया समर्थक किसी मंत्री को नहीं बुलाया गया है।

कलाकारों को भोपाल में रहने के आदेश

भागवत के भोपाल में रहने की वजह से भाजपा ने राज्य सरकार के सभी मंत्रियों को राजधानी में ही रहने के निर्देश दिए हैं। भागवत ने मंगलवार को स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार को बैठक स्थल शारदा विहार बुलाया। उन्हें एक घंटे अकेले चर्चा में। रात में उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव से बातचीत की। अरविंद भदौरिया खुद भागवत से मिलने पहुंचे। बताया जा रहा है कि संघ प्रमुख बुधवार को दो-तीन मंत्रियों से मुलाकात कर सकते हैं।

आरएसएस से जुड़े मंत्रियों को तरजीह

भागवत ने अब तक जिनिस्टों को बातचीत के लिए बुलाया है, वे सभी या तो स्वयंसेवक रहे हैं या किसी अन्य रूप में संघ से जुड़े हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह भी बुधवार शाम भागवत से मिल सकते हैं। जानकारी के मुताबिक, संघ प्रमुख का अभी तक कांग्रेस को छोड़कर सिंधिया समर्थक मंत्रियों से मिलने का कोई कार्यक्रम नहीं है।

इस बार संघ कार्यालय भाग नहीं जाएगा
आरएसएस प्रमुख पहले जब भी भोपाल आए थे तो अरेरा कॉलोनी स्थित संघ कार्यालय में ही तैनात थे। लेकिन, यहां रहने वाले तीन प्रचारकों को पिछले दिनों कोरोनाटे पाया गया था। लिहाजा, इस बार भागवत यहां नहीं रुके। भागवत से जितने लोग भी मिल रहे हैं, उनका मेडिकल चेकअप किया जा रहा है। इनकी बुकिंग हिस्ट्री भी नोट की जा रही है।

0



Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *