Share this


क्राइस्टचर्च7 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों पर हमला करके 51 लोगों की जान लेने वाले ऑस्ट्रेलियाई ब्रेंटन को उम्रकैद सुनाई गई। सजा के ऐलान के बाद पुलिसकर्मियों से घिरा ब्रेंटन।

  • प्रतिद्वंद्वी का नाम ब्रेंटन टेरेंट है, वो ऑस्ट्रेलिया का रहने वाला है, क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों में पिछली हमला किया गया था।
  • ब्रेंटन पर 51 लोगों की हत्या, 40 लोगों की हत्या के प्रयास और एक आतंकवाद का आरोप साबित हुआ

न्यू के क्राइस्टचर्च शहर में पिछले साल 15 मार्च को दो मस्जिदों पर फायरिंग करने वाले ऑस्ट्रेलियाई को उम्रकैद सुनाई। उसे पैरोल भी नहीं मिलेगा। मस्जिदों में घुसकर की गई फायरिंग में 51 लोग मारे गए थे। 40 घायल हुए थे। हमलावर ने इस कत्लेआम की फेसबुक पर लाइव स्ट्रीमिंग की थी।

सजा सुनाते कब जज ने दोषी से कहा- आप हमारे देश में सिर्फ कत्लेआम के मद्रास से आए थे। इस देश को मानवता के लिए जाना जाता है।

पैरोल भी नहीं मिलेगा
ब्रेंटन को कुल 82 मामलों में सुनाई गई। हर कटल और हर इसके प्रयास के लिए सजा सुनाई गई। न्यूजीलैंड के इतिहास में यह पहला मौका है जब किसी आरोपी को बिना पैरोल के उम्रकैद सुनाई गई है। भारतीय समय के अनुसार, गुरुवार सुबह सजा का ऐलान किया गया। इस दौरान पीड़ित परिवार मौजूद रहा। इस मामले की सुनवाई एक साल में पूरी तरह से हुई थी। मार्च में ब्रेंटन को दोषी पाया गया था। 27 अगस्त को सजा सुनाई गई।

जज ने कहा क्या
ब्रेंटन की सजा का ऐलान क्राइस्टचर्च हाईकोर्ट के जज कैमरून मेंडर ने किया। कहा- यह जघन्य अपराध है। यह हैरान करने वाली बात है कि किसी व्यक्ति के अंदर इतनी नफरत भी हो सकती है। उसे अपने किए पर कोई पछतावा भी नहीं है। 29 साल का ब्रेंटन एक्सप्रेस ही कहा जाएगा। जज ने ब्रेंटन से कहा- आप हमारे देश में सिर्फ कत्लेआम मचाने आए थे।

क्या हुआ था पिछले साल 15 मार्च को
ब्रेंटन अटैटिक रायफल और मैग्जीन के साथ क्राइस्टचर्च की एक मस्जिद पहुंच गई। अंदर घुसा और फायरिंग शुरू कर दी। 40 लोगों की मौत हुई। इसके बाद कुछ दूरी पर दूसरी मस्जिद में फायरिंग की। यहां 11 लोग मारे गए। ब्रेंटन 2017 में ऑस्ट्रेलिया से न्यूजीलैंड शिफ्ट हुआ था। यहां आकर किराए का मकान लिया। हथियार जुटाना घटना की फेसबुक पर लाइव स्ट्रीमिंग भी की। न्यूजीलैंड की प्रधान जेसिंडा अर्डर्न ने इस घटना को न्यूजीलैंड के इतिहास का सबसे काला दिन करार दिया था।

0



Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *