Share this


मनीला2 घंटे पहले

  • कॉपी लिस्ट

वर्षों के जोलो प्रांत के सुलू में सोमवार को दो आतंकी हमले हुए। इन 11 लोगों की मौत हुई। घटना के बाद सेना ने इलाके को अपने कब्जे में ले लिया। पुलिस की जांच में मिलिट्री की इंटेलिजेंस यूनिट भी मदद कर रही है।

  • जानकारों के मुताबिक, पहले हमला इद के जरिए किया गया था
  • दूसरा हमला एक महिला फिदायीन ने किया, उसकी भी मौत हो गई

सोमवार के जोलो प्रांत में सोमवार दोपहर दो आतंकी हमलों में 11 लोगों के मारे जाने की खबर है। मरने वालों का आंकड़ा बढ़ सकता है क्योंकि 35 से ज्यादा लोग घायल बताए गए हैं। इनमें से कुछ की हालत गंभीर है। मारे गए लोगों में पांच सैनिक और 6 नागरिक हैं। घायलों में सैनिकों की तादाद ज्यादा है।

कैसे हुआ हमला
पुलिस के मुताबिक, घटना जोलो प्रांत के मुस्लिम बहुल इलाके सुलू में हुई। यहाँ दो सड़कों पर ये हमला हुआ। पहले हमले में बाइक पर आईड लगाई गई थी। इसके धमाके में पाँच सैनिक और पाँच नागरिक मारे गए। 15 लोग घायल हुए। ज्यादातर सैनिक हैं। दूसरी आक्रमण महिला फिदायीन ने लगभग 200 मीटर की दूरी पर किया। उसने खुद को उड़ा लिया। इसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई और 18 लोग घायल हो गए।

सैनिक ही पर थे
दो की कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि साझों के निशाने पर सैनिक ही थे। यहां से कुछ किलोमीटर दूर मिलिट्री बेस है। सैनिकों की गाड़ियां आती-जाती रहती हैं। बाजार में सैनिक खरीदारी करने भी आते हैं। आतंकवादियों ने इसका एकमात्र फायदा उठाया। यहां अबु सयाफ नाम का आतंकी गुट सक्रिय है।

सेना की इंटेलिजेंस यूनिट भी सक्रिय है
घटना के जांच के लिए लोकल पुलिस के साथ मिलिट्री इंटेलिजेंस यूनिट को भी लगाया गया है। पूरे इलाके को सील कर दिया गया है। पुलिस ने मौके के कुछ सबूत जुटाए हैं। घटना की जिम्मेदारी अब तक किसी संगठन ने नहीं ली है। लेफ्टिनेंट जनरल रोनाल्डो मेतियो ने कहा- हमें कुछ सुराग हाथ लगे हैं। गुनाहगार चाहे जहां हों, हम जल्द ही उन्हें खोज लेंगे।

0



Source link

By GAUTAM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *